गिरती GDP को लेकर राहुल गांधी ने कसा तंज – मोदी है तो मुमकिन है…

0

New Delhi/Atulya Loktantra: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) इन दिनों आर्थिक नीतियों (Economic Policies) को लेकर मोदी सरकार (Modi Government) पर खासे आक्रामक नजर आ रहे हैं. बुधवार को एक बार फिर उन्होंने पीएम मोदी (PM Modi) पर तंज कसा. राहुल गांधी ने Infosys के संस्थापक एन आर नारायणमूर्ति (N R Narayanmurthi) के एक बयान का हवाला देते हुए तंजात्मक लहजे में BJP के नारे ‘मोदी है तो मुमकिन है’ को दोहराया है. बता दें कि एन आर नारायणमूर्ति ने आशंका जताई की कोरोना वायरस के चलते इस वित्त वर्ष में देश की आर्थिक गति आजादी के बाद सबसे खराब स्थिति में होगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें इन्फोसिस के संस्थापक एन आर नारायणमूर्ति ने आशंका जताई की कोरोना संकट के चलते इस साल देश की आर्थिक गति आजादी के बाद सबसे खराब स्थिति में होगी. उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को जल्द से जल्द पटरी पर लाया जाना चाहिये, उन्होंने आशंका जताई कि इस बार सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में स्वतंत्रता के बाद के सबसे बड़ी गिरावट दिख सकती है. नारायण मूर्ति ने ऐसी एक नई प्रणाली विकसित करने पर भी जोर दिया जिसमें देश की अर्थव्यवस्था के हर क्षेत्र में प्रत्येक कारोबारी को पूरी क्षमता के साथ काम करने की अनुमति हो.

मूर्ति ने कहा, ‘‘भारत की जीडीपी में कम से कम पांच प्रतिशत संकुचन का अनुमान लगाया जा रहा है। ऐसी आशंका है कि हम 1947 की आजादी के बाद की बससे बुरी जीडीपी वृद्धि (संकुचन) देख सकते हैं.” साफ्टवेयर सेक्टर में बड़ी पहचान रखने वाले मूर्ति बेंगलूरू में ‘‘भारत की डिजिटल क्रांति का नेतृत्व” पर आयोजित एक वेबिनार में भाग ले रहे थे. नारायण मूर्ति ने कहा, ‘‘वैश्विक GDP नीचे गई है. दुनिया का व्यापार डूब रहा है, वैश्विक यात्रा करीब करीब नदारद हो चुकी है. ऐसे में वैश्विक GDP में 5 से 10 प्रतिशत तक संकुचन होने का अनुमान है.”

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here