Jammu and Kashmir की जनता को न्यू ईयर गिफ्ट

15
J&K की जनता को न्यू ईयर गिफ्ट
J&K की जनता को न्यू ईयर गिफ्ट

New Delhi/Atulya Loktantra : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जम्मू-कश्मीर की जनता को न्यू ईयर गिफ्ट देनेवाले हैं। मोदी सरकार की फ्लैगशीप योजना ”आयुष्मान भारत” का आज से जम्मू-कश्मीर में भी विस्तार हो जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी दोपहर 12 बजे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए आयुष्मान भारत योजना के तहत जम्मू एवं कश्मीर के लिए प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, सेहत की शुरुआत करेंगे। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर की जनता भी स्वास्थ्य बीमा के दायरे में आ जाएगी। इस योजना को पीएम-जय के नाम से भी जाना जाता है।

Jammu and Kashmir की जनता को न्यू ईयर गिफ्ट

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, ‘‘प्रधानमंत्री 26 दिसंबर को दोपहर 12 बजे वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में आयुष्मान भारत पीएम-जय सेहत की शुरुआत करेंगे। इस योजना में जम्मू एवं कश्मीर के सभी निवासियों को शामिल किया जाएगा।’’ बयान में कहा गया कि यह योजना जम्मू-कश्मीर केंद्रशासित प्रदेश में रहने वाले सभी लोगों को मुफ्त बीमा कवर प्रदान करती है। इसके अंतर्गत जम्मू-कश्मीर के सभी निवासियों को फ्लोटर बेसिस पर पांच लाख रुपये प्रति परिवार वित्तीय कवर उपलब्ध कराया जाएगा।

Jammu and Kashmir की जनता को न्यू ईयर गिफ्ट सेहत योजना के तहत लाभ :

  • पीएम-जय के परिचालन विस्तार से 15 लाख (लगभग) अतिरिक्त परिवारों को लाभ होगा।
  • योजना के तहत जम्मू-कश्मीर के सभी निवासियों को मुफ्त हेल्थ इंश्योरेंस मिलेगा
  • हर परिवार को 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मुहैया होगा
  • ”प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना” के तहत आने वाले अस्पतालों में लोग इलाज करा सकेंगे
  • यह योजना बीमा मोड पर पीएम-जय के साथ मिलकर संचालित होगी।
  • इस योजना का लाभ पूरे देश में कहीं भी उठाया जा सकता है।

सार्वभौम स्वास्थ्य कवरेज (यूएचसी) में स्वास्थ्य संवर्धन से लेकर

  • रोकथाम
  • उपचार
  • पुनर्वास और आवश्यक
  • गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं

का पूरा स्पेक्ट्रम और चिकित्सकीय देखभाल शामिल है। इसके माध्यम से सेवाओं तक सभी की पहुंच होती है, लोगों को अपनी जेब से स्वास्थ्य सेवाओं के लिए भुगतान करने की जरूरत नहीं पड़ती है और इलाज के चलते लोगों के गरीबी के दलदल में फंसने का जोखिम कम करता है। आयुष्मान भारत कार्यक्रम के दो स्तंभों- स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों और प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना- के तहत सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज हासिल करने की परिकल्पना की गई है।

आपको बता दें कि दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना ‘आयुष्मान भारत’ सितंबर 2018 में शुरू हुई थी लेकिन इसका लाभ जम्मू-कश्मीर के लोगों को नहीं मिल पा रहा था। 26 महीने बाद ये जम्मू-कश्मीर में लागू हो रही है। इस योजना का मकसद देश की 50 करोड़ आबादी को मुफ्त स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here