विद्यार्थियों को रोजगारपरक बना रही स्किल यूनिवर्सिटी – राज नेहरू

पलवल (अतुल्य लोकतंत्र) मुकेश बघेल: श्री विश्वकर्मा स्किल यूनिवर्सिटी का मुख्य उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थियों को रोजगारपरक बनाना है। विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम इस प्रकार से तैयार किये हुए हैं, जिसमें स्टूडेंट्स तकनीकी रूप से हैंड्स ऑन प्रैक्टिस कर रहा है। यही नहीं कोर्स के बाद विद्यार्थी जॉब कर रहे हैं, खुद का व्यवसाय शरू कर रहे हैं, एंटरप्रेन्योरशिप कर रहे हैं। स्किल इंडिया को लेकर जो स्वप्न सरकार द्वारा देखा गया वह सब यह विश्वविद्यालय पूरा कर रहा है। आने वाले समय में यह विश्वविद्यालय प्रदेश के साथ साथ राष्ट्र के युवाओं को कौशल में हुनरमंद बनाएगा। उक्त बातें श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के कुलपति श्री राज नेहरू ने आज पलवल में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहे। पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय ने नए सत्र 2022-23 के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू कर दी है, जिसमें लगभग 800 सीट्स पर 35 विभिन्न कोर्सेज में विद्यार्थी दाखिल ले सकते हैं। श्री राज नेहरू ने बताया कि विश्विद्यालय के विद्यार्थी अनेकों कंपनीज में अच्छे पैकेज पर काम कर रहे हैं। इसके साथ एग्रीकल्चर, फार्मिंग, फ़ूड, लैंग्वेज, संगीत आदि क्षेत्रों में खुद के रोजगार स्थापित किये हुए हैं।
श्री राज नेहरू ने बताया कि रिकॉग्निशन ऑफ प्रायर लर्निंग के क्षेत्र में यूनिवर्सिटी काम कर रही है। इसके अंतर्गत हुनरमंद कामगारों को विभिन्न क्षेत्रों में शैक्षणिक डिग्री प्रदान की जाएगी। इस अवसर पर विश्विद्यालय के कुलसचिव प्रो आर एस राठौड़ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के विषय में जानकारी दी। डीन प्रो निर्मल सिंह ने सभी कोर्सेज के बारे में विस्तार से बताया।

Leave a Comment