35 वर्षीय व्यक्ति की बाइक सवार दो युवकों ने गोलियों से भूनकर की हत्या

पलवल/अतुल्यलोकतंत्र : हथीन में प्रेम प्रसंग के चलते 35 वर्षीय व्यक्ति की बाइक सवार दो युवकों ने गोलियों से भूनकर हत्या कर दी। हत्या की वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। वारदात से गुस्साए परिजनों ने जयंति मोड़ पर जाम लगा दिया जिससे यातायात बाधित हो गया। आधे घंटे तक लगे जाम को परिजनों ने पुलिस के आश्वासन के बाद खोला। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भिजवाया। मृतक व्यक्ति व उसकी प्रेमिका अलग-अलग समुदाय से संबंध रखते है।

पलवल के गांव मिठाका निवासी दाउद ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि उसके पुत्र उमर शेद की चार वर्ष पूर्व रेवाड़ी जिला निवासी बबिता (काल्पनिक नाम) से हुई थी और बबिता ने उमर शेद के साथ रहने का फैसला किया था। सात फरवरी 2019 को बबिता अपने घर से उमर शेद के पास आ गई। बबीता के परिजनों ने अपने नजदीक थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया। जिसके बाद वहां से पुलिस आई और उमर शेद व बबीता को अपने साथ ले गई।

बबीता के परिजन उसे अपने साथ ले गए। अपनी जान का खतरा देखेत हुए बबीता ने सारी जानकारी व्हाटस ऐप के जरिए उमर शेद को दे दी। जिसके बाद उमर शेद नें हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। बबीता का एक रिश्तेदार उसे उसके घर से अपने गांव ले जा रहा था तो रास्ते में मौका मिलते ही बबीता भागकर उमर शेद के पास आ गई। जिसके बाद बबीता के परिजनों की तरफ से उमर शेद के पास फोन आने लगे और धमकियां देने लगे।

उमर शेद ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर सुरक्षा मांगी और उन्हें सुरक्षा मिल गई, जिसके डेट उन्हें 16 सिंतबर 2019 की मिल गई। सात सिंतबर की शाम सात बजे उमर शेद बबीता को लेकर अपने घर आ गया। रविवार सुबह सात बजे उमर शेद बाइक पर सवार होकर किसी काम से बाजार जा रहा था उसी दौरान पीछे से बाइक पर आए दो युवकों ने उमर शेद पर ताबड़तोड़ गोलियों से हमला कर दिया। हमलावरों ने आठ-दस राउंड फायर किए। उमर शेद को सात गोली लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हत्या की वारदात वहां पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

हथीन थाना इंचार्ज जयराम ने बताया कि वारदात की सूचना मिलते ही वे मौके पर पहुंचे और मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भिजवाया। वहीं पीछे से मृतक के गुस्साए परिजनों ने हथीन के जयंति मोड़ पर जाम लगा दिया जिससे यातायात बाधित हो गया। जाम की सूचना मिलते ही हथीन डीएसपी मौके पर पहुंचे और आश्वासान देकर करीब आधे घंटे लगे जाम को खुलावाया।

मृतक के पिता ने शिकायत में बबीता के परिजन जसवंत सिंह, सतवीर सिंह, रविंद्र, बीरसिंह, सुबे सिंह, धर्मबीर, सतपाल सिंह, सतेंद्र सिंह, हवा सिंह, नरेंद्र लोहिया व चरण के नाम दिए है। शिकायत के आधार पर कार्रवाई कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया है।

Leave a Comment