मेगा कैंप का आयोजन कर एक ही छत के नीचे किया आम जनमानस की सभी समस्याओं का समाधान

पलवल, 12 नवंबर ( अतुल्य लोकतंत्र ): जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण (डीएलएसए) ने मेगा कैंप का आयोजन कर आम जनमानस को एक ही छत के नीचे उनकी सभी समस्याओं का समाधान किया, जिसका शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर ने किया। उन्होंने लोगों का आह्वïान किया कि वे इस प्रकार के आयोजनों का पूर्ण लाभ उठायें। डीएलएसए इस दिशा में नियमित रूप से प्रयासरत है और लोगों को नि:शुल्क रूप से कानूनी सहायता व अन्य सुविधाएं प्रदान कर रहा है।

डीएलएसए ने शुक्रवार को जिला न्यायिक परिसर में मेगा कैंप का सफल आयोजन किया, जिसमें बड़ी संख्या में आम जनमानस ने हिस्सा लेकर विभिन्न प्रकार की सुविधाओं व योजनाओं का लाभ उठाते हुए जानकारी हासिल की। प्राधिकरण के चेयरमैन तथा जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर के साथ अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एसके गर्ग, अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एसके खंडूजा, अतिरिक्त सत्र न्याधीश सुखप्रीत सिंह प्रधान, फैमिली न्यायाधीश डा. सुनीता ग्रोवर, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एवं डीएलएसए के सचिव पीयूष शर्मा, अतिरिक्त मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी आरके यादव, प्रिंसीपल मजिस्ट्रेट जूवेनाईल जस्टिस बोर्ड रितु यादव, प्रािम श्रेणी मजिस्ट्रेट गुलशन वर्मा एवं प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट विकास वर्मा इत्यादि न्यायिक अधिकारियों ने मेगा कैंप का दौरा किया। मेगा कैंप में रेटिनेर हंसराज शाण्डिल्य एडवोकेट, अनुराधा व एडवोकेट नवीन रावत डीएलएसए ऑफिस हैल्पडेस्क पर मौजूद रहे।
जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर के नेतृत्व में न्यायिक अधिकारियों ने सभी स्टॉल्स का दौरा करते हुए अधिकारियों-कर्मचारियों को प्रोत्साहित किया कि वे प्राथमिकता के आधार पर लोगों को सुविधाएं प्रदान करें। लोगों की सुनवाई अवश्य की जाए। इस अवसर पर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एवं प्राधिकरण के सचिव पीयूष शर्मा ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत मेगा कैंप का आयोजन किया गया है, जिसमें लोगों की हर प्रकार की समस्याओं का समाधान करवाया जा रहा है। इस मेगा कैंप में लगभग हजारों लोगों ने पहुंचकर सुविधा का लाभ उठाया।
जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने मेगा कैंप में करवाई शुगर की जांच:
मेगा कैंप में स्वास्थ्य विभाग के तत्वावधान में शुगर तथा ब्लड प्रैशर की जांच की सुविधा दी गई, जिसका लाभ डीएलएसए के चेयरमैन तथा जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर ने भी उठाया। उन्होंने अपनी शुगर जांच करवाई जो कि बिल्कुल सामान्य मिली। उनके साथ अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संजय कुमार खंडूजा तथा डीएलएसए के सचिव पीयूष शर्मा, फैमिली न्यायाधीश डा. सुनीता ग्रोवर, प्रिंसीपल मजिस्ट्रेट जूवेनाईल जस्टिस बोर्ड रितु यादव आदि ने भी शुगर व बीपी की जांच करवाई। साथ ही अन्य अधिकारियों-कर्मचारियों और आम जनमानस ने भी इस सुविधा का पूर्ण लाभ उठाया।
यूथ रैडक्रॉस का रिबन बैज पहन दिया राष्टï्र सेवा का संदेश:
मेगा कैंप के दौरे के दौरान जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर आदि न्यायिक अधिकारियों ने यूथ रैडक्रॉस इकाई की स्टॉल पर रूक कर विस्तार से सेवाओं की जानकारी प्राप्त की। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संजय कुमार खंडूजा को इकाई सदस्यों ने यूथ रैडक्रॉस का रिबन बांधकर सम्मानित किया। जिला एवं सत्र न्यायाधीश तथा अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने इस दौरान राष्टï्र सेवा का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को रैडक्रॉस से जुडक़र राष्टï्र सेवा में बढ़-चढक़र हिस्सा लेना चाहिए।
वन विभाग ने बांटे पौधे, दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश:
डीएलएसए के मेगा कैंप में वन विभाग ने स्टॉल लगाकर न्यायिक अधिकारियों तथा आम जनमानस को पौधों का वितरण किया। इस दौरान जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर ने लोगों को पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हुए अधिकाधिक पौधारोपण के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि पौधे लगाकर उनका पूर्ण पोषण करना होगा ताकि वे एक वटवृक्ष का रूप धारण कर सकें। यह समय की मांग है।
डीएलएसए ने मास्क व सैनेटाईजर वितरीत करते हुए फैलाई जागरूकता:
जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण (डीएलएसए) ने मेगा कैंप में विशेष रूप से स्टॉल लगाकर सैंकड़ों की संख्या में मास्क व सैनेटाईजर वितरीत किये। पैनल अधिवक्ताओं ने स्वयं यह कार्य करते हुए लोगों को कोविड-19 कोरोना महामारी से बचाव के लिए प्रोत्साहित किया। साथ ही उन्होंने डीएलएसए की विभिन्न प्रकार की सेवाओं-सुविधाओं की जानकारी देते हुए जागरूकता की अलख जगाई। उन्होंने जरूरतमंदों को प्रोत्साहित किया कि वे नि:शुल्क कानूनी सेवा का लाभ उठा सकते हैं।
वन स्टोप सेंटर में एक छत के नीचे पीडि़त महिलाओं को दी जा रही सभी सुविधाएं:
वन स्टोप सेंटर के माध्यम से घरेलू हिंसा, यौन शोषण आदि विभिन्न प्रकार के अपराधों की शिकार होने वाली महिलाओं को हर प्रकार की संभावित सहायता दी जा रही है। मेगा कैंप में भी स्टॉल लगाकर सेंटर के जरिये दी जा रही कानूनी सेवा इत्यादि की जानकारी दी गई। साथ ही बच्चों को हर प्रकार के शोषण व अत्याचार से संरक्षण देने के लिए जिला बाल संरक्षण अधिकारी ने भी स्टॉल लगाकर जागरूकता फैलाने का प्रयास किया। इनके अलावा भी मेगा कैंप में स्व-रोजागार के लिए प्रोत्साहन देने वाले पंजाब नेशनल बैंक के आरसेटी केंद्र, महिला एवं बाल विकास विभाग, समाज कल्याण विभाग, श्रम विभाग, निर्वाचन अधिकारी कार्यालय, पुलिस विभाग इत्यादि ने स्टॉल लगाकर योजनाओं की जानकारी देते हुए आम जनमानस को उनका लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित किया।

Leave a Comment