मनोहर खट्टर के बिगड़े बोल, आंदोलनकारी किसानों की भीड़ में एक खास वर्ग के लोग शामिल

चंडीगढ़: करनाल में किसानों के प्रदर्शन के समाप्त होने के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कृषि कानूनों को लेकर हो प्रदर्शनों पर कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कृषि कानूनों को लेकर कांग्रेस पर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया। साथ ही उन्होंने ऐसा न करने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि देश के किसानों को बरगलाने में कांग्रेस लगी हुई है, मेरी उनसे अपील है कि वह ऐसा न करें। मुख्यमंत्री ने किसानों के प्रदर्शनों को लेकर कहा कि किसान आंदोलन के नाम पर एक वर्ग की भीड़ उनमें शामिल है, जो किसान नहीं है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसी को उकसा कर व्यवस्था को न बिगाड़े क्योंकि यदि कोई कानून व्यवस्था का प्रभावित करता है तो उसे बरकरार रखना प्रशासन का दायित्व होता है। कांग्रेस किसानों को गुमराह करके राजनीतिक महत्वाकांक्षा हासिल करना चाहती है। इससे समाज व राज्य को नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि उन्हें अच्छे विपक्ष का आचरण दिखाना चाहिए और लोगों को उकसाना बंद कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि किसानों के नाम पर एक आंदोलन चल रहा है, जिसमें विशेष वर्ग के लोग शामिल हैं। प्रदर्शन में सभी किसान नहीं हैं।

सीएम खट्टर ने कहा कि हम लगातार किसानों के हित में काम कर रहे हैं। गन्ने का रेट बढ़ने से किसान खुश हैं। बता दें कि हरियाणा के करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में किसानों का प्रदर्शन चल रहा था, जो आज अधिकारियों और किसान नेताओं के बीच हुई वार्ता के बाद समाप्त हो गया है। सरकार की तरफ से किसानों को भरोसा दिलाया गया है कि लाठीचार्ज का आदेश देने वाले एसडीएम के खिलाफ न्यायिक जांच कराई जाएगी और जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती एसडीएम छुट्टी पर रहेंगे। वहीं मृत किसान के परिवार के दो सदस्यों को सरकारी नौकरी देने का भी भरोसा दिलाया गया है।

 

Leave a Comment