लोकसभा चुनाव : फरीदाबाद से कन्फर्म हुई करण दलाल की टिकट

119

Faridabad/Atulya Loktantra : पलवल के विधायक और कांग्रेस के कद्दावर नेता करण दलाल ने कांग्रेस आलाकमान का भरोसा जीत लिया है. फरीदाबाद लोकसभा उम्मीदवारी पर उनके नाम पर 99 परसेंट आलाकमान की मुहर लग चुकी है, जल्द ही लिस्ट भी आ जाएगी. उनके टिकट मिलने की खबर पर उनके समर्थकों में भारी उत्साह है हालाँकि अंतिम समय में कोई उलटफेर भी हो सकता है. हमारी सूचना के मुताबिक़ राहुल गाँधी अमेठी में होने की वजह से अंतिम लिस्ट पर मुहर नहीं लगा सके.

कुछ दिनों पहले हमने वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और कांग्रेस कोआर्डिनेशन कमेटी के चेयरमैन भूपेन्द्र सिंह हुड्डा से सवाल पूछा था – फरीदाबाद में किसे कांग्रेस की टिकट मिलेगी. जवाब में हुड्डा ने कहा था कि सिर्फ जिताऊ उम्मीदवारों को ही टिकट मिलेगी.

कांग्रेस की टिकट की दौड़ में चार नाम थे – करण दलाल, अवतार भडाना, ललित नागर और महेंद्र प्रताप. पहले लगता था कि अवतार भडाना को टिकट मिलेगी लेकिन जातिगत समीकरण उनके पक्ष में फिट नहीं बैठ रहे हैं,

पहले ऐसा लगता था कि अवतार भडाना को ही कांग्रेस की टिकट मिलेगी लेकिन पिछले दिनों के घटनाक्रम ने उनके खिलाफ माहौल बना दिया, कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में भी उनको लेकर नाराजगी है. ललित नागर और महेंद्र प्रताप भी कृष्णपाल गुर्जर को टक्कर नहीं दे पाएंगे इसलिए अब कांग्रेस में करण दलाल एकमात्र विकल्प हैं जो कृष्णपाल गुर्जर को टक्कर भी दे सकते हैं और जातिगत और धार्मिक समीकरण भी उनके पक्ष में हैं.

हमारी सूचना के मुताबिक़ करण सिंह दलाल का नाम तय कर लिया गया है. अंदरूनी और विश्वस्त सूत्रों से हमें इसकी जानकारी मिली है. अवतार भडाना और महेंद्र प्रताप रेस से बाहर हो चुके हैं हालाँकि अंतिम समय में कुछ भी हो सकता है क्योंकि अवतार भडाना अंतिम समय तक टिकट के लिए हाथ-पाँव मारेंगे क्योंकि वह यूपी में विधायक का पद छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए हैं.

कांग्रेस आलाकमान का मानना है कि शख्शियत में सिर्फ करण दलाल ही कृष्णपाल को कड़ी टक्कर दे सकते हैं, जाट, राजपूत, मुस्लिम उन्हें समर्थन दे सकते हैं, इसके अलावा पलवल हथीन होडल में कृष्णपाल गुर्जर के खिलाफ एंटी-इनकम्बेंसी कांग्रेस के पक्ष में जाएगी. फरीदाबाद शहर में कृष्णपाल गुर्जर जरूर सब पर भारी पड़ेंगे लेकिन देहाती क्षेत्र में भाजपा के पक्ष में लहर नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here