विश्व के सबसे ऊंचे युद्धक्षेत्र में लहराया मानव रचना का झंडा

0

Faridabad/Atulya Loktantra : मानव रचना शैक्षणिक संस्थान शहर और राष्ट्र को सुरक्षित बनाने वाले लोगों के प्रति आभार और सम्मान प्रकट करता है। मानव रचना डेंटल कॉलेज (MRDC) के प्रोफेसर (डॉ.) नरेश शर्मा ने हाल ही में दुनिया के सबसे ऊंचे और सबसे ठंडे युद्धक्षेत्र: सियाचिन ग्लेशयर का दौरा किया। शहीद शशिकांत शर्मा के भाई डॉ. नरेश शर्मा सियाचिन ग्लेशियर में अपने भाई के माल्यार्पण समारोह के लिए कई विपत्तियों का सामना करते हुए गए पहुंचे। यह यात्रा भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत (PVSM, UYSM, AVSM, YSM, SM, VSM, ADC) की विशेष अनुमति से की गई थी।

इस यात्रा के दौरान, डॉ. नरेश शर्मा ने सियाचिन ब्रिगेड के कमांडेंट को मानव रचना ध्वज प्रदान किया। मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के लिए यह गर्व की बात है कि यह झंडा सियाचिन ब्रिगेड के हेड क्वार्टर में रखा जाएगा।

उल्लेखनीय है कि कैप्टन शशिकांत शर्मा को उनकी वीरता, कर्तव्य के प्रति समर्पण और राष्ट्र के लिए सर्वोच्च बलिदान के लिए “सेना पदक” दिया गया था। शशिकांत शर्मा अक्तूबर 1998 में देश की सेवा करते हुए सियाचिन ग्लेशियर में शहीद हुए थे।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here