विश्व गुरु बनने के लिए राष्ट्र धर्म का पालन करना होगा – डॉ० रवि हंडा

आई एम टी संस्थान परिसर में आजादी के अमृत महोत्सव के आयोजन के क्रम में कवि सम्मेलन का भव्य आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ सरस्वती वंदना के साथ किया गया।नगर निगम के आयुक्त यशपाल यादव बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित हुए। राष्ट्रीय कवि दिनेश रघुवंशी, महेंद्र अजनबी तथा सर्वेश अस्थाना ने अपने कविता पाठ से स्रोताओं को भाव विभोर कर दिए। संस्थान के निदेशक डॉ० रवि हंडा ने मुख्य अतिथि सहित सभी अतिथियों का शाल तथा गुदास्तों से स्वागत किये तथा स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किए। डॉ० रवि हंडा ने अपने संबोधन में राष्ट्र प्रेम के लिए भावनात्मक निवेश को परमावश्यक बताते हुए देश के सैनिकों से राष्ट्र प्रेम तथा देश के प्रति समर्पण सीखने की सलाह दिए। उन्होंने कहा कि देश की आजादी कुर्बानियों के चलते हमें प्राप्त हुई है इस बात को भुलाया नहीं जा सकता। हमें जाति-पाति, धर्म सम्प्रदाय से ऊपर उठना होगा तभी हम विश्व गुरु बन सकते हैं। इस अवसर पर डॉ० पुर्थी, डॉ० पासी, डॉ० नारायण सिंह, डॉ० पारुल खन्ना, डॉ० आर एन सिंह, डॉ० मीनू, डॉ० पूनम, डॉ० गीता सहित विभिन्न प्राध्यापकों, कर्मचारियों तथा विद्यार्थियों ने बढ़ – चढ़कर हिस्सा लिया।

Leave a Comment