रेप के आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर सडक़ पर उतरी पीडि़ता

फरीदाबाद, 16 मई । 12 वर्षीय नाबालिग लडक़ी के साथ दुष्कर्म का मामला दर्ज होने के एक माह का समय बीतने के बावजूद आरोपियों की गिरफ्तारी न होने व पीडि़ता व उसके परिवार पर समझौते का दबाव बनाने को लेकर सोमवार को बल्लभगढ़ के अंबेडकर चौक पर सामाजिक संगठनों के लोगों के साथ मिलकर रेप पीडि़ता ने प्रदर्शन कर न्याय की गुहार लगाई। रेप पीडि़ता ने बताया कि वह बल्लभगढ़ की एक कालोनी में अपनी बहन व जीजा क ेसाथ रहती है, करीब एक माह पूर्व जब वह घर की छत पर कपड़े सूखा रही थी, उसी दौरान आदित्य नामक युवक ने उसके साथ जबरदस्ती की और उसे जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद भी उसने उसके साथ गलत काम करना जारी रखा और जब लडक़े पिता को इसकी जानकारी मिली तो उसने भी उसके साथ छेडख़ानी की और उसे व उसके परिवार को धमकी दी। वह इन ज्यादतियों को सहती रही परंतु जब पानी सिर से ऊपर चला गया तो उसने अपनी बहन को यह बताया और उसके बाद बल्लभगढ़ पुलिस में मामला दर्ज हुआ, लेकिन मामला दर्ज होने के बावजूद आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई, उल्टा आरोपी उन पर समझौते का दबाव बनाने लगे। इस दौरान वह एसीपी से लेकर डीसीपी तक मिले, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। पीडि़ता के जीजा का कहना है कि पीडि़ता दो साल से उनके साथ रह रही है, जब उन्हें इस घटना का पता चला तो उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस को दी। लेकिन अब दूसरा पक्ष उन पर समझौते का दबाव बना रहा है, लेकिन वह लडक़ी को न्याय दिलाना चाहते है। इस दौरान सामाजिक संगठन के लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिस प्रशासन जिले के एक विधायक के दबाव में आरोपी पक्ष को बचाने का काम कर रहा है, जबकि इस मामले में पुलिस ने जांच की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लिया।

Leave a Comment