मुफ्त में जरूरतमंदों को पुलिस बांट रही मास्क, कोरोना से बचाव के लिए भी जागरुक कर रही

2

कोरोना महामारी के दौरान इस समय पुलिस कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करा रही है। जो लोग नहीं मान रहे हैं उनके चालान भी काट रही है। इसके विपरीत पुलिस का दूसरा पहलू भी इस समय दिखाई दे रहा है। वह ड्यूटी के साथ-साथ समाज सेवा भी कर रही है। स्लम एरिया में रहने वाले उन जरूरतमंदों को मास्क बांट रही है जो इन्हें खरीदने में सक्षम नहीं हैं।

तीन दिन में बांटे 5000 मास्क
सेक्टर 7 पुलिस थाना, सेक्टर 11 पुलिस चौकी व सेक्टर 8 पुलिस चौकी की टीमों ने संयुक्त रूप से सेक्टर 7 की स्लम बस्ती में जाकर मास्क खरीदने में असमर्थ लोगों को 3 दिन में करीब 5000 मास्क वितरित किए। सेक्टर-7 थाना प्रभारी इंस्पेक्टर दिनेश, पुलिस चौकी सेक्टर 8 प्रभारी उपनिरीक्षक सतबीर व पुलिस चौकी सेक्टर 11 प्रभारी उपनिरीक्षक प्रदीप कुमार व उनकी टीम ने आरडब्लूए व अन्य निजी संस्थाओं के माध्यम से ये मास्क वितरित किए। पुलिस अधिकारियों ने स्लम बस्ती में जाकर लोगों को कोरोना वायरस के फिर से बढ़ रहे प्रकोप के बारे में जागरुक करते हुए उन्हें इस महामारी से बचने के उपायों के बारे में भी बताया।

कोरोना जागरुकता का संदेश दिया
पुलिस अधिकारियों ने लोगों को अनावश्यक रूप से घर से बाहर न जाकर अपने और अपने परिवार को सुरक्षित रखने का संदेश देते हुए कहा यदि आप बिना कार्य और बिना मास्क घर से बाहर निकलते हैं तो आप स्वयं कोरोना को न्योता दे रहे हैं। क्योंकि जब आप बाहर से वापस घर पहुंचते हैं तो कोरोना वायरस आपके साथ घर के अंदर प्रवेश कर जाता है। पुलिस ने कहा कि जब तक वैक्सीनेशन पूरा नहीं हो जाता तब तक फेस मास्क ही इस महामारी से बचने का सबसे उत्तम उपाय है। इसलिए जरूरी है कि जब भी किसी कार्य के लिए घर से बाहर निकलें मास्क अवश्य लगाएं। पुलिस अधिकारियों ने कहा थोड़ी-थोड़ी देर में हाथ सेनिटाइज करते रहें। इस दौरान लोगों ने पुलिस को कोरोना वायरस से बचने के लिए बताई गई सावधानियों का प्रयोग करने की शपथ ली।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here