मंदिर परिसर बाल भिक्षुओं के लिए सबसे बड़ा स्रोत , मंदिर प्रशासन जिम्मेदार : डॉ हेमलता शर्मा

Faridabad/ ATULYA LOKTANTRA : शरद फाउंडेशन और जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण के तत्वावधान में मंगलवार ( २६ अक्टूबर को ) फिर ” lets make Faridabad child’s beggar’s drive ” की गई।
यह ड्राइव जी टी रोड स्थित हनुमान मंदिर ( अजरौंदा ) में की गई।

इस अवसर पर शरद फाउंडेशन की चेयरपर्सन डॉ हेमलता शर्मा उनकी टीम एवं डीएलएसए प्रतिनिधि उपस्थित रहे , साथ ही एनआईटी महिला थाना से मोनिका जी उपस्थित थीं।

मंदिर परिसर में टीम ने मंदिर प्रशासन को आगाह किया कि वह मंदिर परिसर में बाल भिक्षुको को आने से रोकें। डॉ हेमलता शर्मा ने कहा कि मंदिर परिसर मंदिर परिसर बाल भिक्षुओं के लिए सबसे बड़ा स्रोत है इसमें मंदिर प्रशासनकी बड़ीजिम्मेदारीबनती है कि इसे रोके ।

मंदिर परिसर में टीम ने उन बाल भिक्षुओं के माता पिता को भी हिदायत देते हुए चेताया कि यदि भविष्य में वह इस तरह बच्चों से भीख मांगने के लिए मजबूर करते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

शरद फाउंडेशन के ट्रस्टी एवं प्रवक्ता वरिष्ठ पत्रकार दीपक शर्मा शक्ति ने कहा कि मंदिर में आने वाले लोग बच्चों को या बड़े भिक्षुको को भीख में पैसे कतई न दें , इससे भिक्षा मांगने की प्रवृति को बढ़ावा मिलता है ।
Pl login for news, current affairs www. atulyaloktantranews.com

Leave a Comment