सब इंस्पेक्टर को बेटी का प्यार गुजरा नागवार: हत्या करके जला दिया शव, डेढ़ माह पहले मृतका ने प्रेमी से की थी शादी

14

हरियाणा के फरीदाबाद जिले में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां GRP में तैनात एक सब इंस्पेक्टर को अपनी बेटी का प्यार इतना नागवार गुजरा कि उसने अपने भाई के साथ मिलकर बेटी को मौत के घाट उतार दिया। साथ ही उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। करीब डेढ़ महीने पहले ही बेटी ने दोस्त के साथ कोर्ट मैरिज की थी। लेकिन आरोपी बेटी की शादी को अरेंज मैरिज कराने का झांसा देकर अपने घर ले आया था। सिटी थाना पुलिस ने मृतका के पति की शिकायत पर सब इंस्पेक्टर के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। आरोपी GRP बल्लभगढ़ में चौकी इंचार्ज के पद पर कार्यरत है।

ये है मामला
​​​​​​​बल्लभगढ़ की मुकेश कॉलोनी निवासी सागर यादव एक निजी कंपनी में नौकरी करते हैं। वह अपने साथ पढ़ने वाली सेक्टर दो निवासी कोमल पुत्री सोहनपाल से प्यार करते थे। कोमल भी सागर को पसंद करती थी। लड़की के पिता सोहनपाल GRP में सब इंस्पेक्टर हैं। वर्तमान में वह बल्लभगढ़ में GRP चौकी इंचार्ज हैं। सागर के मुताबिक, कोमल के घरवाले शादी के लिए तैयार नहीं थे। ऐसे में सागर और कोमल ने 8 फरवरी 2021 को कोर्ट मैरिज कर ली और कोर्ट से प्रोटेक्शन मांगी। कोर्ट ने तीन दिन का प्रोटेक्शन दे दिया। 11 फरवरी को फिर दोनों कोर्ट में पेश हुए। उस दौरान कोमल के पिता सोहनपाल ने दोनों की अरेंज मैरिज कराने का वादा किया और बेटी को अपने घर ले आए।

19 फरवरी को हुई रिंग सेरेमनी

सागर के पिता उमेद सिंह ने बताया कि 19 फरवरी को लड़की के पिता सोहनपाल ने रिंग सरेमनी की थी और 15 मार्च को शादी करने का वादा किया था। लेकिन वह इस शादी से खुश नहीं थे। वह बेटी की शादी कहीं और करना चाहते थे। इसके लिए कोमल पर लगातार दबाव बनाया जा रहा था। 15 मार्च के उन्होंने शादी करने के बारे में पूछा तो सोहनपाल ने अपनी किसी रिश्तेदार की मौत होने का बहाना बनाकर समय मांग लिया। 16 मार्च को कोमल ने अपने पति सागर को मैसेज करके बताया कि उसके पापा सोहनपाल और चाचा शिवकुमार कमरे की लाइट बंद करके कुछ बात कर रहे हैं। मुझे डर लग रहा है। घटना के वक्त लड़की मां और भाई नहीं थे। दो दिन बाद 17 मार्च को सागर के पास कोमल के मरने की खबर आई।

पुलिस को सूचना दिए बगैर जला दिया शव

सूत्रों का कहना है कि सब इंस्पेक्टर ने बेटी द्वारा आत्महत्या करने की बात कहकर बगैर पुलिस को सूचना िदए और पोस्टमार्टम कराए शव को अपने गांव पृथला के सहराना में ले जाकर अंतिम संस्कार कर दिया। सूत्रों ने यह भी बताया कि आरोपी सोहनपाल ने अपने GRP थाने में भी बेटी के आत्महत्या करने की बात बताई थी।

5 साल पहले दोनों की हुई थी मुलाकात

सागर के पिता ने बताया कि उनके बेटे सागर और सोहनपाल की बेटी कोमल 5 साल पहले एक निजी इंस्ट्‌टीटयूट में पढ़ते थे। दोनों ने एक साथ बीटेक की। बाद में सागर नौकरी करने लगा और कोमल एमटेक कर रही थी। कोमल के पति सागर का कहना है कि दोनों ने आर्य समाज मंदिर में धार्मिक रीित रिवाज के साथ शादी की थी। लेकिन उसकी हत्या पिता सोहनपाल और चाचा शिवकुमार ने की है। कोमल आत्महत्या नहीं कर सकती थी। सागर की शिकायत पर सिटी थाना पुलिस ने सोहनपाल और शिवकुमार के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here