CM विंडो हरियाणा से सख्त निर्देश:पलवल में सरपंच ने किया पौने 2 करोड़ का गबन, होगी FIR; गुरुग्राम समेत पूरे राज्य में गड़बड़ियों पर तुरंत कार्रवाई करने को कहा गया

1

हरियाणा में विभिन्न जिलों से सरपंच और ग्राम सचिवों की तरफ से गड़बड़झाले सामने आए हैं। CM विंडो पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान इन पर कार्रवाई के निर्देश हुए हैं। इनमें सबसे बड़ा पलवल जिले के गांव खाईका के सरपंच का है। उस पर 1 करोड़ 84 लाख रुपए के गबन का आरोप है और उसके खिलाफ FIR दर्ज किए जाने को लेकर आदेश जारी हुआ है। यह जानकारी मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी कार्यक्रम के परियोजना निदेशक डॉ. राकेश गुप्ता ने दी है।

बुधवार को CM विंडो पर प्रदेशभर के जिलों से उपायुक्त और अन्य अधिकारियों की समीक्षा बैठक हुई। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये चली इस बैठक में पलवल जिले के गांव खाईका के सरपंच इकबाल के खिलाफ FIR दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही संबंधित ग्राम पंचायत के सचिव के खिलाफ भी तुरंत कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं। चरखी दादरी जिले के गांव बौंद कलां की पूर्व सरपंच अनिता देवी और ग्राम सचिव रामवीर के खिलाफ आपराधिक केस दर्ज करने की मंजूरी दिए जाने का आदेश जारी हुआ है। कहा गया है कि उसके कार्यकाल में पंचायत में हुए 36 लाख रुपए के घाटे की वसूली पूर्व सरपंच और ग्राम सचिव से की जाए।

CM विंडो पर फटीदाबाद में एक पब्लिक पार्क की शिकायत का संज्ञान लेते हुए डॉ. राकेश गुप्ता ने संबंधित अधिकारियों को फटकार लगाई है। उन्होंने कहा कि पब्लिक पार्क में हुए अतिक्रमण को हटाने के लिए लगाए गए कोर्ट के स्टे को हटवाने के बारे में जल्द कार्रवाई करके पार्क को खाली करवाएं।

फटीदाबाद नगर निगम में आउटसोर्सिंग पर नियुक्तियों के दौरान हुई अनियमितताओं के बारे में आई शिकायत पर उन्हें बताया गया कि इस संबंध में लगभग एक करोड़ 54 लाख रुपए की राशि वसूल की जानी है। इसमें से केवल 67 लाख रुपए वसूल किए गए हैं। इस पर डॉ. राकेश गुप्ता ने संबंधित अफसरों को कहा कि बिना किसी लीपा-पोती के वसूली पूरी की जाए।

गुरुग्राम में लाइसेंस्ड भूमि पर अतिक्रमण के संबंध में आई एक शिकायत पर डॉ. गुप्ता ने संबंधित जिले के अधिकारी तुरंत कार्रवाई करें और कैसे इस जमीन पर 7 मंजिला भवन बन गया, इसकी भी जांच करके उचित कार्रवाई की जाए। झज्जर में तहसीलदार द्वारा प्रतिबंधित क्षेत्र में कई सेल डीड करने के संबंध में आई शिकायत पर सुशासन अधिकारी ने रिपोर्ट तलब करके तुरंत कार्रवाई करने का कहा है। बैठक के दौरान पानीपत में चुनाव में 65 बोगस वोट के एक मामले में परियोजना निदेशक को अवगत करवाया गया कि इस संबंध में SIT गठित कर दी गई है।

यमुनानगर की जगाधरी तहसील में स्ट्रक ऑफ कम्पनीज की सेल डीड से संबंधित एक शिकायत के बारे में डॉ. गुप्ता ने कहा कि इस मामले में जांच पूरी करें और दोषियों के खिलाफ दो सप्ताह के भीतर कार्रवाई करें। इसके अलावा उन्होंने अंबाला, भिवानी, चरखी दादरी, फरीदाबाद, फतेहाबाद, गुरुग्राम, हिसार, झज्जर, जींद, करनाल, कुरुक्षेत्र, कैथल, नारनौल, पलवल, पंचकूला, पानीपत, सिरसा, रेवाड़ी, सोनीपत, यमुनानगर से संबंधित शिकायतों को जल्द निपटाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here