तय समय सीमा में सरकारी सेवा प्रदान न करने वाले अधिकारियों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई : यशपाल

2
-लापरवाही करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए निर्धारित कमिशन को लिखा जाएगा पत्र
-अलग-अलग विभागों की प्रगति रिपोर्ट के लिए तीनों एसडीएम को किया नियुक्त, 10 दिन में देंगे रिपोर्ट
-सभी विभागों की मासिक समीक्षा मीटिंग के दौरान दिए निर्देश, सीएम विंडो, ई-ऑफिस, सरल सहित सभी योजनाओं की समीक्षा भी कीफरीदाबाद, 10 मार्च। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि आम जनता को समय पर समयबद्ध सेवाएं देना सभी विभागों का दायित्व है। अगर कोई भी विभाग समय पर शिकायतों व अन्य फाईलों का निपटारा नहीं करता तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ सेवा का अधिकार अधिनियम के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी। उपायुक्त यशपाल बुधवार को लघु सचिवालय के छठे तल स्थित कॉन्फ्रेंस हाल में सभी विभागों की मासिक समीक्षा मीटिंग में निर्देश दे रहे थे।

उपायुक्त ने कहा कि सेवा का अधिकार अधिनियम के तहत सभी सेवाओं के लिए समय सीमा निर्धारित की गई है। कोई भी आवेदन आता है अथवा शिकायत आती है तो उसका समय से निपटारा अवश्य किया जाए। उन्होंने कहा कि अगर हम समय पर किसी भी सेवा अथवा शिकायत का निपटारा नहीं करते हैं तो उसमें जुर्माने का प्रावधान भी है। उन्होंने मीटिंग में सख्त रूख अपनाते हुए कहा कि सभी विभागों में लंबित ऐसे मामलों की रिपोर्ट तैयार कर कार्रवाई के लिए कमिशन को लिखा जाएगा। इसके साथ ही संबंधित विभाग के मुख्यालय को भी अवगत करवाकर कार्रवाई के लिए अनुशंसा की जाएगी। उपायुक्त ने मीटिंग में निर्देश देते हुए कहा कि जिला के तीनों एसडीएम को अलग-अलग मीटिंग कर सभी विभागों की समीक्षा भी करेंगे और यह देखेंगे कि किस विभाग की क्या प्रगति है?

मीटिंग में उन्होंने सरल, अंत्योदय सरल, सीएम विंडो, ई-ऑफिस, एसएमजीटी, सी.पी. ग्राम, मिड डे मिल, सक्षम, पीसीपीएनडीटी, पोक्सो एक्ट, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान सहित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा भी की। इनमें गांव फतेहपुर चंदीला व शाहपुर कलां में बेटियों की संख्या बेटों से अधिक होने पर उन्होंने बधाई भी दी। उन्होंने कहा कि हमें अभियान को और अधिक आगे बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि 45 आंगनवाडिय़ों को प्ले स्कूल में तब्दील करने की प्रक्रिया को भी जल्द से जल्द पूरा किया जाए। इसके महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बताया गया कि कुपोषण को खत्म करने के लिए पोषण अभियान युद्ध स्तर पर अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए शुरूआत में फरीदाबाद अर्बन ब्लॉक का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। मीटिंग में अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान, एसडीएम बल्लभगढ़ अपराजिता, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, एसडीएम बडख़ल पंकज सेतिया, एचएसवीपी के संपदा अधिकारी जितेंद्र कुमार, सीटीएम मोहित कुमार, सीएमजीजीए रूपाला सक्सेना सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here