बल्लभगढ़ अनाज मंडी में भी दिखा आढ़तियों का ई -पोर्टल के विरोध में धरना

55

Faridabad/Atulya Loktantra : आढ़तियों ने मांगों को लेकर अनिश्चित काल के लिए हड़ताल शुरू कर दी है। बल्लभगढ़ और तिगांव की अनाज मंडी में भी इस हड़ताल का असर दिखाई दिया। हड़ताल के चलते मंडी में फसल को लेकर आए किसानों को दिक्कत खड़ी हो गई है। बल्लभगढ़ के अनाज मंडी के आढ़तियों ने सरकार द्वारा किसानों को डायरेक्ट पैसा देने और सरकार द्वारा कंप्यूटर द्वारा बिल मांगे जाने के विरोध में आढ़तियों ने हड़ताल की घोषणा की है आढ़तियों का कहना है कि किसान को दिए जाने वाला फॉर्म जे पहले हाथ से भर कर दिया जाता था लेकिन अब सरकार उनके ऊपर दबाव बना रही के किसानों और सरकार को दी जाने वाली रशीद कंप्यूटर से निकली हुई होनी चाहिए।आढ़तियों का कहना है कि सरकार उनके ऊपर दबाव डाल रही है। अब उन्हें अलग से मेन पावर रखनी होगी तो वही जिले भर के किसान परेशान हैं किसानोंं का कहना है की फसल ट्रॉली में भरी हुई खड़ी है उनकेे पास घर में फसल को रखने के लिए पर्याप्त जगह नहीं है।

तिगांव अनाज मंडी में भी आढ़ती अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठ गए हैं। एसोसिएशन से जुड़े आढ़तियों ने बताया की राज्य और केंद्र की भाजपा सरकार ने आढ़तियों का धंधा चौपट करने की ठान ली है। अनाजमंडी में अनाज बेचने वाले किसान के खाते में सीधा पैसा डालना और कंप्यूटर रशीद देकर हमें परेशान किया जा रहा है। आढ़तियों की हड़ताल के चलते गेंहू की खरीद बंद हैं। जिन किसानों ने स्वयं को ई-मंडी पोर्टल पर रजिस्टर्ड नहीं कराया उन्हें अपने फसल आढ़तियों के माध्यम से बेचनी पड रही है, आढ़तियों की हड़ताल के चलते ऐसे किसानों की फसल अनाज मंडी में खुले में पड़ी है, किसान बिना खरीद के परेशान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here