बदमाशों को काबू करते समय बहादुरी से सामना करते हुए सिपाही संदीप हुए शहीद

पुलिस आयुक्त श्री विकास अरोड़ा ने व्यक्त की संवेदनाएं, सोनीपत के कथुरा गांव में पूरे राजकीय सम्मान के साथ की जाएगी अंत्येष्टि

मीडिया जगत, व्यापारी संघ व अन्य संगठनों ने पुलिसकर्मी की मृत्यु पर जताया दुख, बहादुरी की प्रशंसा की, आर्थिक सहायता का किया ऐलान

फरीदाबाद: आपको बता दें कि 28 सितंबर को फरीदाबाद के मुजेसर थाना में तीन बदमाशों ने हथियारों के बल पर दुकानदार से लूटपाट की थी। इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 की टीम द्वारा की जा रही थी जिसमे क्राइम ब्रांच को के हाथ कुछ अहम सुराग लगे थे जिनके आधार पर क्राइम ब्रांच को सूचना प्राप्त हुए कि बदमाश हरिद्वार में छुपे हुए हैं।
बदमाशों का पीछा करते हुए कल क्राइम ब्रांच 30 की टीम रेड करने हरिद्वार पहुंची थी। हरिद्वार में 4 आरोपी छुपे हुए थे जिनका नाम अंशु उर्फ मोनू, अभिषेक, मनीष और अमित था। चारों आरोपी उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के रहने वाले हैं।

क्राइम ब्रांच टीम इन बदमाशों को काबू करने के प्रयास में एक बदमाश अंशु ने पुलिस पर फायर कर दिया जिसमें गोली सिपाही संदीप के जबड़े पर लगी और वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इस मुठभेड़ में पुलिस द्वारा की गई जवाबी कार्रवाई में उक्त बदमाश के हाथ में भी गोली लगी।

चारों बदमाशों को मौके से काबू कर लिया गया तथा घायल सिपाही संदीप को नजदीकी अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई।

गांव कथुरा,सोनीपत , श्री कृष्ण के घर मे 1984 में जन्मे सिपाही संदीप वर्ष 2013 से पुलिस विभाग में कार्यरत हैं और वह जनवरी 2020 से क्राइम ब्रांच 30 में अपनी सेवाएं दे रहे थे। इससे पहले वह क्राइम ब्रांच 56 में तैनात थे। संदीप के परिवार में गमगीन बुजुर्ग माता-पिता ओर उनकी पत्नी है, स्व० सन्दीप के 3 बच्चे, जिसमें 1 बेटा और 2 बेटियां हैं।

स्व० सन्दीप का पूरे राजकीय सम्मान के साथ गाँव कथुरा में अंतिम संस्कार किया जाएगा। पुलिस आयुक्त फरीदाबाद, श्री विकास अरोड़ा, डीसीपी हेडक्वार्टर डॉ अंशु सिंगला, डीसीपी ट्रेफिक श्री सुरेश हुड्डा, SP पानीपत व् DC सोनीपत स्थानीय पुलिस एवं प्रशासन अंत्येष्ठी में शामिल होंगे।

पुलिसकर्मी की शहादत पर मीडिया व उद्योग जगत सहित अन्य संगठनों ने पुलिसकर्मी की बहादुरी की प्रशंसा करने के साथ ही वीरगति पर दुःख जताया है तथा साथ ही पुलिसकर्मी के परिवार की आर्थिक सहायता करने का भी ऐलान किया है।

पुलिस आयुक्त श्री विकास अरोड़ा ने शहीद जवान संदीप की वीरगति पर संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि संदीप ने फरीदाबाद की जनता की सुरक्षा में अपने कर्तव्य का निर्वाहन करते हुए अपनी जान पर खेल कर बहादुरी का प्रदर्शन करते हुए शहीद हो गए। उन्हें उनके परिवार के प्रति पूरी संवेदना है। वह हर एक पुलिसकर्मी को अपने परिवार का सदस्य समझते हैं और उन्हें अपने जवान को खोने का बहुत दुख है।

उन्होंने कहा कि सिपाही संदीप की कमी को तो पूरा नहीं किया जा सकता परंतु उनके परिवार की आर्थिक सहायता के लिए फरीदाबाद पुलिस के पुलिसकर्मियों और अधिकारीयों की तरफ से अपनी स्वेच्छा से 11 लाख रूपए की आर्थिक मदद दी गई है और इसके साथ ही पुलिस विभाग व् हरियाणा सरकार की तरफ से मिलने वाली सहयता के लिए केस बनाकर जल्द से जल्द भेजा जाएगा।

Leave a Comment