मिट्टी पानी धूप हवा, सब रोगों की यही दवा चतुर्थ प्राकृतिक चिकित्सा शिविर

पलवल(अतुल्य लोकतंत्र )/मुकेश बघेल

हरियाणा योग आयोग एवम आयुष विभाग के संयुक्त तत्त्वाधान में चतुर्थ प्राकृतिक चिकित्सा शिविर का आयोजन जिला पलवल के पलवल,होडल,हथीन तहसीलों के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में किया गया।जिला आयुष अधिकारी डॉक्टर अजीत यादव ने बताया है कि पलवल में तहसील स्तर पर पांच दिवसीय प्राकृतिक चिकित्सा शिविर लगाया जा रहा है,जिसमे हरियाणा योग आयोग द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करते हुए शिविर में आए प्रतिभागियों को योगासन कराए जाएंगे,प्राकृतिक चिकित्सा का उपयोग किस प्रकार किया जाए एवम उनसे होने वाले लाभों के बारे में जागरूक किया जाएगा साथ ही ब्लड शुगर की बढ़ी हुई मात्रा को योग एवम प्राकृतिक चिकित्सा द्वारा किस प्रकार मधुमेह को नियंत्रित किया जा सकता है और मधुमेह की बीमारी एवम अन्य मेटाबॉलिज्म जन्य बीमारी से कैसे बचा जा सकता है इसके बारे में योग एवम प्राकृतिक चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा जानकारी दी जाएगी।राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय पलवल में योगाचार्य श्री रामजीत जी ने उपस्थित प्रतिभागियों को योगाभ्यास कराया और उनके लाभ भी बताए।प्राकृतिक चिकित्सा के बारे में नेचरोपैथ श्री बृजेन्द्र आर्य जी ने विस्तृत जानकारी दी,उन्होंने मिट्टी से दी जाने वाली थेरेपी के बारे में बताया।साथ ही उन्होंने बताया की हम प्रकृति के जितने समीप रहेंगे हमारा शरीर उतना ही स्वस्थ रहेगा ,विशेष रूप से हमारा भोजन बहुत ही प्राकृतिक होना चाहिए जिसमे मौसम के अनुरूप सब्जी,फल,शाक आदि का सेवन करना चाहिए,भरपूर मात्रा में धूप के नियमित सेवन करना चाहिए जिससे शरीर में कैल्शियम और विटामिन D के स्तर को नॉर्मल रखा जा सकता है।इसी प्रकार हमें स्वच्छ हवा का सेवन करना चाहते इसके लिए हम सभी को पैदल चलने अथवा साइकिल चलाने की आदत विकसित करना चाहिए,और प्रदूषण नही फैलाना चाहिए।कैंप के इंचार्ज डॉक्टर सतीश शर्मा ने बताया की कैंप में आने वाले व्यक्तियों का योग से पहले एवम योग के बाद ब्लड शुगर,ब्लड प्रेशर एवम वजन का दाता एकत्रित किया जा रहा हैं जिससे ये जानकारी मिल सकेगी की योगासन एवम प्राकृतिक चिकित्सा करने से पूर्व एवम करने के पश्चात इनसे क्या लाभ मिलता है।इसी प्रकार के चिकित्सा शिविर का आयोजन राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय होडल में पतंजलि योग समिति के सहयोग से श्री ललित आर्य जी ने एवम हथीन में श्री बिजेंद्र जी की देखरेख में आयुष विभाग द्वारा आयोजित किए गए।कार्यक्रम के नोडल अधिकारी योगाचार्य श्री रामजीत जी ने बताया है की पांच दिवसीय कार्यक्रम दिनाक 14 नवंबर से 18 नवंबर तक प्रातः 6:30 बजे से 8:30 बजे तक आयोजित किए जाएंगे।उन्होंने सभी से अपील की है की इसने कोरोना के बचाव के नियमानुसार भाग लेकर योग एवम प्राकृतिक चिकित्सा शिविरों का अधिक से अधिक लाभ उठाएं एवम इन्हे अपने जीवन में अपनाए।

Leave a Comment