श्री सिद्धदाता आश्रम अब सौर ऊर्जा से होगा जगमग

45

Faridabad/Atulyaloktantra: आज की नयी सदी में हमें ऊर्जा के नए विकल्पों पर काम करना होगा। इसमें सौर ऊर्जा प्रमुख और सस्ता विकल्प है। इस दिशा में श्री सिद्धदाता आश्रम के प्रयास सराहनीय हैं। यह बात हरियाणा सरकार में केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने आश्रम में स्थापित किये 100 किलोवाट सौर ऊर्जा पावर प्लांट के उद्घाटन अवसर पर कही।

इससे पहले आश्रम पहुँचने पर विपुल गोयल का प्रबंधन सदस्यों द्वारा स्वागत किया गया। वहीं गोयल ने आश्रम अधिष्ठाता जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज से आशीर्वाद प्राप्त किया। स्वामी जी के सान्निध्य में पावर प्लांट का रिबन काटकर उद्घाटन करने के बाद मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि परंपरागत ऊर्जा स्रोतों के सीमित होने और मांग बढऩे के कारण हमें नए विकल्पों को अपने प्रयोग में लाना होगा। उन्होंने कहा कि आज सौर ऊर्जा अच्छा और सस्ता विकल्प है जिसे अपनाने के लिए लोगों को आगे आना चाहिए। इस दिशा में भारत और हरियाणा सरकार भी काफी प्रयास कर रही हैं।

जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने बताया कि आश्रम में 100 किलोवाट बिजली उत्पन्न करने की क्षमता वाला प्लांट लगाया गया है। जो आश्रम की दिन की बिजली जरुरत को पूरा करने में सक्षम होगा बल्कि बची हुई बिजली ग्रिड को दी जाएगी। इससे सरकार और बिजली निगम पर दवाब काम होगा। इस अवसर पर उद्यमी आर एस गाँधी, सुधा रस्तोगी डेंटल कॉलेज के संस्थापक विजय गुप्ता, कमल ज मी, इनर व्हील क्लब की चार्टर प्रेजिडेंट संगीता गुप्ता, सदस्य मनीता सिंघल आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here