पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने कोरोना वायरस से संक्रमित पुलिसकर्मियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात कर बढ़ाया हौसला

3

फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना संक्रमित 37 पुलिसकर्मियों से बात कर उनकी हौसला अफजाई की है।

जैसा कि विदित है कोरोना कि दूसरी लहर पहली लहर से ज्यादा हानिकारक है और पुलिसकर्मियों को लोगों की रक्षा- सुरक्षा के लिए हर वक्त एक कदम आगे रहना पड़ता है। इसलिए अपने कर्तव्य को निभाते निभाते कुछ् पुरुष एवं महिला पुलिसकर्मी‌ भी संक्रमित हो गए।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से करीब 37 पुलिसकर्मियों से बातचीत करते हुए उन्होंने सभी का हाल चाल जाना। पुलिसकर्मी कोरोना के बावजूद काफी आत्मविश्वास से भरे हुए थे और पुलिस आयुक्त के बात करने से और ज्यादा खुश नजर आए।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पुलिस कमिश्नर ने सभी को सलाह दी कि गर्म पानी पिए, काढा ले, प्रोटीन युक्त ताजा भोजन खाएं, विटामिन सी के लिए संतरे, मौसमी, आम इत्यादि का सेवन करें।

पुलिस आयुक्त ने एसीपी अशोक वर्मा को कहा कि कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों का एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया जाए और रोज अपनी प्रॉब्लम के बारे में सीपी साहब को अवगत कराएं और डीसीपी डॉ अंशु सिंगला से भी बातचीत करें। डॉ० अंशु सिंगला भी उनको उचित परामर्श देती रहेंगी। साथ ही उन्होंने कहा की योगा करें मेडिटेशन करें, अपने दोस्तों से फोन पर बात करें परिवार वालों से बात करते रहें ताकि आप का मनोबल बना रहे।

पुलिस आयुक्त ने जो जल्दी ठीक हो रहे हैं उनसे उनके रूटीन के बारे में पूछा और उन पुलिसकर्मियों को भी वैसे ही रूटीन अपनाने की सलाह दी।

उन्होंने कहा कि जो लोग इस महामारी से ठीक हो चुके हैं उनके संपर्क में रहें उनसे बात करते रहें ताकि वह आपका हौसला बढ़ाते रहें।

उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मियों को वैसे तो टाइम मिलता नहीं है लेकिन इस बीमारी के दौरान इस समय का सदुपयोग करें। सभी अपने अपने स्कूल, कॉलेजों के दोस्तों को फोन करे और उनसे बातें करे ,और सकारात्मक उर्जा बनाए रखें।

इस दौरान एक महिला पुलिसकर्मी ने बताया कि उनको कई बार सांस लेने में परेशानी हो रंही ऑक्सीजन लेवल कम हो रहा है है इस पर तुरंत पुलिस कमिश्नर ने संज्ञान लेते हुए एसीपी अशोक वर्मा की ड्यूटी लगाई कि उनको तुरंत डॉक्टर से दिखाया जाए । पुलिस आयुक्त ने महिला पुलिसकर्मी को फर्स्ट क्लास प्रशंसा पत्र एवं ₹5000 इनाम देने के लिए भी कहा।

पुलिस कमिश्नर ने हौसला दिया और कहा कि मैं कामना करता हूं कि जल्द ही तुम सभी स्वस्थ होकर वापस ड्यूटी पर लौटे और जन सेवा करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here