साईधाम फरीदाबाद में 15 जोड़ों के सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन

FARIDABAD : शिरडी साई बाबा टेम्पल सोसाइटी, साईधाम फरीदाबाद के प्रांगण में 15 जोड़ों का सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन बड़ी धूमधाम से किया गया। उल्लेखनीय बात ये है कि इस जोड़ो में 1 जोड़ा दृष्टिहीन भी था। कोरोना को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का विशेष ध्यान दिया गया और बिना मास्क के प्रवेश अनुमति नहीं थी। इस विवाह में केवल वर-वधू के परिजनों के साथ 5-5 व्यक्तियों को आने की अनुमति दी गई थी। प्रवेश द्वार पर सभी को सेनेटाइज करने के बाद ही प्रवेश की अनुमति दी गई।
इस अवसर पर संस्था द्वारा विवाह के बंधन में बंधे 15 जोड़ों को घर-गृहस्थी के लिए हर प्रकार का घरेलू सामान जैसे बर्तन, कपड़े, बिस्तर, बैड, गैस चूल्हा, साईकिल इत्यादि दिया गया। शादियां संपन्न होने के बाद वर-वधु के सभी परिजनों के लिए भोजन व प्रसाद की व्यवस्था की गई। सभी दूल्हा दुल्हनों के परिजनों ने साईं धाम के इस आयोजन की हृदय से प्रशंसा की। विवाह बंधन में बंधी कुछ कन्याओं के परिजनों ने तो यहां तक कहा कि साईं धाम के सहयोग के कारण ही उन्हें अपनी बिटिया के विवाह का असंभव सा दिखने वाला कार्य इतने शानदार तरीके से हो पाया उसके लिए वे पूज्य मोतीलाल जी के सदैव आभारी रहेंगे।
सामूहिक विवाह के कार्यक्रम में विशेष रूप से मध्य प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (कारागर)आई0पी0एस0 अरविंद कुमार जी भी भोपाल से पधारे। नवविवाहित जोड़ो को आशीर्वाद देते हुए अरविंद कुमार जी ने साईं धाम के सभी समाजसेवी प्रकल्पों की बहुत प्रशंसा की और संस्था से सदैव जुड़े रहने का आश्वासन भी दिया।
संस्था के संस्थापक अध्यक्ष डा० मोतीलाल गुप्ता ने अपने संदेश में नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि हमें सामूहिक विवाह को प्रोत्साहित करना चाहिए ताकि दहेज प्रथा जैसी बुराईयों को रोका जा सके और परिवार को बोझ लगने वाली कन्याओं के प्रति समाज का दृष्टिकोण भी बदले। साथ ही उन्होंने कन्याओं के माता पिता को संदेश देते हुए कहा कि वे अपनी कन्याओं का विवाह 21 वर्ष की आयु से पहले ना करें ताकि वे विवाह के समय शारीरिक, शैक्षिक व मानसिक रूप से स्वस्थ अवस्था में हों। वर्तमान में संस्था द्वारा दो स्कूलों का संचालन कर रही है, जिसमें एक स्कूल फरीदाबाद व दूसरा उप्र के बुंदेलखंड जिला के निसवारा में स्थित है। दोनों स्कूलों में कुल मिलाकर 2100 बच्चों को नि:शुल्क उत्तम शिक्षा के साथ-साथ पौष्टिक भोजन, शिक्षा सामग्री तथा स्वास्थ्य सुविधाऐं प्रदान की जा रही हैं।
इसके अलावा संस्था 18 डिस्पेन्सरी जिसमें प्रतिदिन लगभग 1000 लोगों का इलाज किया जाता है। वर्ष में 4 बार 25-25 जोड़ों का नि:शुल्क सामूहिक विवाह किया जाता है। जिसमें वर-वधू के माता-पिता से किसी प्रकार का कोई खर्चा नहीं लिया जाता है।
संस्था गरीबों और पिछडे क्षेत्र के लोगों को कपड़ों का वितरण करती है। तथा इंडस्ट्रीयल सिलाई ट्रेनिंग, ड्रेस टेलरिंग, ब्यूटि एण्ड वेलनैस, जनरल पेसेंट असिटेंट का कोर्स संचालित करती है ताकि बेरोजगार को रोजगार मिल सके। रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद संस्कृति से रो0 लव विज, संदीप सिंघल, संदीप गुप्ता, कविता सिंघल, संजय अग्रवाल, सुनील अग्रवाल, कामिनी गांधी, सुनीता विज, बेला अग्रवाल, सुधा सिंघल, मनीष गुप्ता, अम्बिका गुप्ता उपस्थित थे। रोटरी तुलिप से निधि अग्रवाल, अलका सिंघल, पूनम मित्तल, निधि गुप्ता, के साथ साथ भारत विकास परिषद माधव शाखा से सतीश गर्ग । आई डी अरोड़ा/कुमुद अरोड़ा, मनोज सिंघल, धुरुव वाधवा, सुधीर कंसल, कृष्ण दत्त, के एम सहाय, माखन लाल, संदीप कुमार, संजय अग्रवाल, आनंद देव कश्यप, गौरव मिश्रा, जे आर ग्रोवर इत्यादि के सामुहिक विवाह के समर्थन के लिऐ आभारी हैं।

Leave a Comment