अब अधिकारी गैर सरकारी सदस्यों की कमेटी से विचार विमर्श कर ग्रीवेंस मीटिंग में रखेंगे मुद्दे

2

फरीदाबाद, 07 अप्रैल (हि.स.)। ग्रीवेंस कमेटी की बैठक का अब स्वरूप बदलने वाला है, जहां पहले इस बैठक में प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा तय किए मुद्दे रखे जाते थे, अब हरियाणा सरकार द्वारा मनोनीत 5 गैर सरकारी सदस्यों की कमेटी बनाई गई है, जो कि अधिकारियों के साथ मुद्दों पर विचार विमर्श करेंगे और उसके बाद ही चयनित मुद्दों को ग्रीवेंस की बैठक मासिक बैठक में रखा जाएगा। उक्त आदेश माननीय मुख्य सचिव हरियाणा सरकार चंडीगढ़ द्वारा एक पत्र के ज़रिए उपायुक्त कार्यालय फरीदाबाद के नाम जारी हुए जिस पर संज्ञान लेते हुए जिला उपायुक्त फरीदाबाद ने गत 26 मार्च 2021 को पांच सदस्यों की एक कमेटी बनाई। उपायुक्त यशपाल यादव द्वारा बनाई गई पांच सदस्यों की कमेटी में मूलचंद मित्तल, मनमोहन गुप्ता, आनंदकांत भाटिया, हुकम सिंह भाटी और ओम दत्त भारद्वाज को शामिल किया गया है। इस कमेटी का काम जिला लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की मासिक बैठक में रखे जाने वाले एजेंडा तैयार करने के दौरान उपस्थित रहना और विचार-विमर्श उपरांत होने वाली मासिक बैठक में रखे जाने वाले अजेंडा को अंतिम रूप देना होगा। पिछले काफी समय से यह देखने में आता रहा कि जिला लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की मासिक बैठकों में तैयार किए जा रहे एजेंडा में शिकायतें बहुत ही निम्न स्तर की रखी जा रही थीं और कई शिकायतें तो 2-3 वर्षों से लंबित चली आ रही थीं। मुख्य सचिव के इस आदेश और उपायुक्त फरीदाबाद द्वारा तुरंत उनकी पालना करते हुए कमेटी गठित करना और उसमें स्थानीय निवासियों की स्थिति को समझते हुए उनकी शिकायतों को दूर करवाने वाले सक्रिय सदस्यों को सम्मिलित करने से जिला लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की विश्वसनीयता बढऩे के पूरे पूरे आसार दिखाई देते हैं। लोगों का यह भी मानना है कि जिस प्रकार से उपमुख्यमंत्री एवं जिला फरीदाबाद की लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति के अध्यक्ष माननीय दुष्यंत चौटाला जी द्वारा सख़्ती से पेश आते हुए शिकायतों का सकारात्मक रूप में निवारण किया जा रहा है उसमें माननीय मुख्य सचिव हरियाणा सरकार के इस आदेश से और भी अच्छे परिणाम आने की प्रबल संभावनाएं बन जाती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here