राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस – प्रीति और खुशबू पेंटिंग और निबंध में प्रथम रही

राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय एन आई टी तीन फरीदाबाद में प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचन्दा की अध्यक्षता में जूनियर रेडक्रॉस, गाइड्स, लीगल लिटरेसी क्लब और सैंट जॉन एंबुलेंस ब्रिगेड ने राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस पर जागरूकता कार्यक्रम एवं पेटिंग और निबंध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया। सैंट जॉन एंबुलेंस और जूनियर रेडक्रॉस प्रभारी प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचन्दा ने कहा कि राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम 1987 को सुनिश्चित करने के लिए मनाया जाता है। यह दिन विधिक सेवा के अंतर्गत प्राधिकरण अधिनियम और वादिकारियों के अधिकार को विभिन्न प्रावधानों से अवगत कराने के लिए भी मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य समाज के कमजोर वर्गों के लोगों के लिए निशुल्क, प्रवीण और कानूनी सेवाएं उपलब्ध कराना है। यह कमजोर वर्गों के लोगों को निर्बाध सेवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ-साथ उन्हें उनके अधिकारों के बारे में जागरूक करने का प्रयास भी करता है। अधिनियम 1987 का 11 अक्टूबर 1987 को कार्यान्वन किया गया था जबकि अधिनियम 9 नवंबर 1995 को प्रभावी हुआ था। यह भारत के सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 1995 में समाज के गरीब और कमजोर वर्गों को सहायता प्रदान करने के लिए प्रारंभ किया गया था। विधिक सेवाएं कमजोर और निर्धन व्यक्तियों के समूह को और सहायता देने के लिए एक जनादेश के साथ स्थापित किया गया था जो महिलाओं, विकलांग व्यक्तियों, अनुसूचित जनजाति, बच्चों, अनुसूचित जाति, मानव तस्करी पीड़ितों के साथ-साथ प्राकृतिक आपदाओं के पीड़ित भी हो सकते हैं। प्राचार्य मनचन्दा, कॉर्डिनेटर गणित प्राध्यापिका डॉक्टर जसनीत कौर और विधिक सेवाएं क्लब इंचार्ज गणित प्राध्यापिका आशा वर्मा ने बालिकाओं को विधिक सेवा प्राधिकरण के बारे में विस्तार से चर्चा भी की। बालिकाओं को विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा प्रदत्त निशुल्क परामर्श एवं अधिवक्ता सुविधा के विषय में भी जानकारी दी गईं। पेंटिंग प्रतियोगिता में जूनियर रेडक्रॉस व ब्रिगेड सदस्य छात्राओं प्रीति, रिंकी, निशा, ज्योति को क्रमशः प्रथम, द्वितीय और तृतीय एवं चतुर्थ घोषित किया गया। निबंध लेखन प्रतियोगिता में खुशबू, नेहा तथा सृष्टि को प्रथम, द्वितीय और तृतीय घोषित किया गया। प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचन्दा ने जसनीत कौर और आशा वर्मा तथा सभी बालिकाओं का कार्यक्रम में भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए और जागरूकता कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए आभार व्यक्त किया।

Leave a Comment