राष्ट्रीय बालिका दिवस – सशक्त और शिक्षित बालिका, देश का भविष्य

राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय एन आई टी तीन फरीदाबाद की जूनियर रेडक्रॉस, गाइड्स और सैंट जॉन एंबुलेंस ब्रिगेड ने प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचंदा की अध्यक्षता में राष्ट्रीय बालिका दिवस पर ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित किया गया। विद्यालय की जूनियर रेडक्रॉस प्रभारी प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचंदा ने कहा कि बालिका दिवस की शुरुआत महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 2008 में की गई थी। इस दिन विभिन्न कार्यक्रमों जिसमें सेव द गर्ल चाइल्ड, चाइल्ड सेक्स रेशियो और बालिकाओ के लिए स्वास्थ्य और सुरक्षित वातावरण बनाने सहित जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। भारत सरकार ने समाज में समानता लाने के लिए राष्ट्रीय बालिका दिवस की शुरुआत की थी। इस अभियान का उद्देश्य देश की लड़कियों को जागरूक करना है। सामान्य जनों को यह बताना है कि समाज के निर्माण में महिलाओं का समान योगदान है इसमें सभी क्षेत्रों के लोगों को बताया गया है कि लड़कियों को भी निर्णय लेने का अधिकार होना चाहिए। प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचंदा और एक्टिविटीज कॉर्डिनेटर डॉक्टर जसनीत कौर ने बताया कि समाज में लड़कियों की स्थिति में सुधार के लिए यह दिवस मनाया जाता है। महिलाओ को अपने घरों, कार्यस्थलों और दैनिक जीवन में कई प्रकार के भेदभाव का सामना करना पड़ता है। लड़कियों की स्थितियों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए एवम किशोरियों व बालिकाओं के कल्याण के लिए सरकार ने समग्र बाल विकास सेवा, धनलक्ष्मी, सबला जैसी योजनाएँ चलाई हैं। इन सबका उद्देश्य लड़कियों, विशेषकर किशोरियों को सशक्त बनाना है ताकि वे आगे चलकर एक बेहतर समाज के निर्माण में योगदान दे सकें। शिक्षा के असीमित अवसर मिलने के पश्चात बालिकाओं के भविष्य में बहुत परिवर्तन आया है और भविष्य में और भी अधिक उन्नति के पथ पर अग्रसर होंगी। आज की बालिका जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ रही है चाहे वो क्षेत्र खेल हो या राजनीति, घर हो या उद्योग। राष्ट्रमण्डल खेलों के गोल्ड मैडल हो या मुख्यमंत्री और राष्ट्रपति के पद पर आसीन होकर देश सेवा करने का काम हो सभी क्षेत्रों में लड़कियाँ समान रूप से भागीदारी ले रही है। प्राचार्य मनचंदा और गणित प्राध्यापिका डॉक्टर जसनीत कौर ने छात्रा हर्षिता, भूमिका, ऋतु, सृष्टि मेघवाल और निशा का पेंटिंग के माध्यम से सशक्त अभिव्यक्ति के लिए अभिनंदन किया।

Leave a Comment