नरेन्द्र मोदी को 20 साल तक मानसिक प्रताडऩा दी गई: बाबा रामदेव

 

गांव भुआपुर में सीए संदीप नागर के दादा-दादी की प्रतिमा स्थापना पर पहुंचे योग गुरु बाबा रामदेव
विधायक राजेश नागर का भाई सुधीर नागर को भी दिया आशीर्वाद
फरीदाबाद। योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा है कि एक चांडाल चौकड़ी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 20 साल तक झूठे आरोप लगाकर मानसिक प्रताडऩा दी गई। अब मोदी के निर्दोष साबित होने पर उन लोगों को सजा मिलनी चाहिए। बाबा यहां तिगांव विधानसभा के गांव भुआपुर में सीए संदीप नागर के दादा-दादी की प्रतिमा स्थापना समारोह में पहुंचे थे। श्री नागर बाबा की पतंजलि योगपीठ के टैक्स कंसल्टेंट भी हैं। इस अवसर पर विधायक राजेश नागर के भाई सुधीर नागर को भी बाबा ने सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया।
बाबा रामदेव ने एसआईटी की जांच में पीएम नरेंद्र मोदी के निर्दोष साबित होने पर कहा कि देश के बहुत बड़े व्यक्तित्व को बुरे-बुरे शब्दों एवं कानूनी कार्रवाइयों में फंसाने के प्रयास किए गए। यह प्रधानमंत्री पद पर बैठे व्यक्ति के लिए शोभा नहीं देता था। अब उन लोगों को माफी मांगनी चाहिए और उन्हें सजा भी मिलनी चाहिए। बाबा रामदेव ने कहा कि भारत की आजादी के समय यहां 565 रियासतें थीं लेकिन आज किसी को उन रियासतों के उत्तराधिकारियों के किन्हीं बड़े कामों की याद भी नहीं होगी। आज देश बदल रहा है। एक चायवाले का बेटा देश का प्रधानमंत्री बन गया है, एक मछली बेचकर गुजारा करने वाले का बेटा देश का राष्ट्रपति बन गया है और आदिवासी समाज से आने वाली द्रौपदी मुर्मू देश की अगली राष्ट्रपति होने वाली हैं। रामदेव ने कहा कि मुर्मु नित्य योग करती हैं और भारत की अच्छी समझ रखती हैं उनके नेतृत्व में देश और तेजी से तरक्की करेगा।
यहां गांव भुआपुर में सीए संदीप नागर ने अपने दादा-दादी की याद को संजोने के लिए उनकी मूर्तियों की स्थापना की है। इस अवसर पर आयोजित भोज में उन्होंने बाबा रामदेव को भी आमंत्रित किया था। हेलीकॉप्टर से यहां पहुंचे बाबा रामदेव को देखने के लिए यहां हुजूम उमड़ा था। बाबा का स्वागत करने के लिए विधायक राजेश नागर के भाई सुधीर नागर मौजूद रहे। उन्होंने अनेक मुद्दों पर बाबा से बात की। बाबा रामदेव ने कहा कि श्री नागर के सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया।
इस अवसर पर पूर्व मंत्री विपुल गोयल, कृष्ण वीर शर्मा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष उदयभान, जेपी नागर, डॉ कर्मवीर, दयानंद नागर,एमएस नागर, सतबीर नागर, वीपी नागर, सुभाष नागर एडवोकेट, एचपी नागर, आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Leave a Comment