पृथ्वी पर भगवान का स्वरूप होती है मां : कृष्णपाल गुर्जर

केंद्रीय राज्यमंत्री ने जताया राजेश रावत की माता जी के निधन पर शोक
फरीदाबाद।
केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा है कि जीवन-मरण संसार का नियम है, जिसने जन्म लिया है, उसकी मृत्यु निश्चित है, लेकिन कुछ पुण्य आत्माएं इस पृथ्वी पर नेक कार्याे के चलते हमेशा लोगों के दिलों में जिंदा रहती है और स्व. श्रीमती ओमवति कंवर भी ऐसी ही महान विभूतियों में से एक थी। आज वे बेशक हमारे बीच नही रही, लेकिन समाज में किए गए अच्छे कार्याे के लिए वह हमें हमेशा याद आती रहेंगी। श्री गुर्जर आज अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं सीएपीएसआई हरियाणा के अध्यक्ष राजेश रावत की माता जी श्रीमती ओमवति कंवर के निधन पर उनके सेक्टर-2 स्थित निवास पर शोक प्रकट करने पहुंचे थे। इस मौके पर उनके साथ हरियाणा भंडारण निगम के चेयरमैन एवं विधायक नयनपाल रावत, डा. हरेंद्र पाल राणा, डा. बलदेव अलावलपुर, प्रताप भाटी भी मौजूद थे। केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने पृथ्वी पर भगवान का स्वरूप होता है मां और उनकी कमी को कोई नहीं कर सकता, लेकिन स्व. ओमवति कंवर ने अपने बच्चों को ऐसे अच्छे संस्कार दिए है, जिसके चलते आज उनका परिवार सामाजिक एवं धार्मिक कार्याे में अपनी अग्रणी भूमिका निभा रहा है और आगे भी यह परिवार ऐसे ही अपना दाियत्व निभाएगा। इस मौके पर विधायक नयनपाल रावत ने भी स्व. ओमवति कंवर को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शोक संतप्त परिवार को ढांढस बंधाया और परमात्मा से उन्हें यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की। इस अवसर पर विभिन्न राजनैतिक पार्टियों से जुड़े प्रतिनिधियों, सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं से जुड़े लोगों, शिक्षाविदों, बुद्धिजीवि लोग मौजूद थे।

Leave a Comment