12 घंटे में 45 MM से अधिक बारिश:नालों की सफाई पर एक करोड़ से अधिक खर्च, फिर भी बारिश का पानी सड़कों से लेकर घरों तक भर गया; सभी प्रमुख हाईवे, सेक्टर और काॅलोनियां बनी तालाब

रविवार आधी रात से शुरू हुई बारिश के चलते कई दिनों से हो रही उमस भरी गर्मी से राहत तो मिल गयी लेकिन नगर निगम अधिकारियों की लापरवाही ने लोगों के लिए परेशानी पैदा कर दी। इस साल में एक करोड़ रुपए से अधिक राशि खर्च कर कराए गए नालों की सफाई के बावजूद निगम शहर को डूबने से नहीं बचा पाया। फरीदाबाद और पलवल में शहर में पानी निकासी की व्यवस्था कराने वाली नगर निगम और नगर परिषद की इंजीनियरिंग बारिश ने फेल कर दी। इसका खामियाजा शहरवासियों को भोगना पड़ा। रही सही कसर बिजली विभाग ने पूरी कर दी। पलवल में आधी रात से कटी लाइट सोमवार को दोपहर करीब तीन बजे बहाल हो पायी। ऐसे में शहरवासी पानी के लिए तरस गए। यही हाल फरीदाबाद के कई इलाकों में रहा। लापरवाह बिजली विभाग के अधिकारी फोन उठाने तक से बचते रहे। फरीदाबाद में 12 घंटे में 45 एमएम से अधिक बारिश रिकॉर्ड की गई। मौसम विभाग के मुताबिक अभी मंगलवार को भी भारी बारिश की संभावना है।

रविवार आधी रात से लगातार हो रही बारिश के कारण सोहना रोड, हार्डवेयर रोड, सारन से व्हर्लपूल चौकी, सेक्टर 21ए, बी,सी, डी, एनआईटी मेट्रो रोड, सेक्टर 22-23 रोड, सेक्टर 16, 17, 18, 19, 12, 15, 9, 8, 10, 11, एनआईटी में जवाहर कॉलोनी रोड, पर्वतिया कॉलोनी, जनता कॉलोनी, कैलगांव के पास नेशनल हाईवे, बल्लभगढ़ फ्लाईओवर से लेकर गुडईयर चौक तक, बाटा चौक समेत लगभग सभी सड़कें जलमग्न रही। इसके अलावा सरकारी दफ़्तर बड़खल एसडीएम आफिस, पुलिस कमिश्नर के सामने भी पानी जमा रहा। बल्लभगढ़ और एनआईटी की कई कॉलोनियों में लोगों के घरों में पानी घुस गया था। बल्लभगढ़ बस अड्‌डा तालाब में तब्दील हो गया था।

पानी में बहा एफएमडीए का दावा

फरीदाबाद मेट्रो पॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी ने दावा किया था कि इस बार बारिश में अंडरपास मेें पानी जमा नहीं होगा। वहां अतिरिक्त मोटरें लगा दी गई है। मुख्यमंत्री ने भी दो दिन पहले ही बैठक के बाद इस बात का भरोसा दिया था लेकिन अधिकारियों की लापरवाही से ओल्ड फरीदाबाद, एनएचपीसी और मेवला महराजपुर अंडरपास में पानी जमा रहा। इससे लेागों का हाईवे से संपर्क टूट गया था।

पलवल में 12 घंटे में 127 एमएम बारिशबिजलीपानी की सप्लाई ठप्प

पलवल में 12 घंटे में 127 एमएम बारिश दर्ज की गई, बारिश के चलते शहर की गलियां, रास्ते व सड़कों के अलावा सरकारी भवन, लोगों के मकान व नेशनल हाईवे जलमग्न हो गए। नगर परिषद की लापरवाही के चलते पानी निकासी के इंतजाम न होने के चलते घंटों सड़कों पर पानी भरा रहा और शहर जाम की स्थिति से जुझता रहा। इसके अलावा रविवार रात से सोमवार दोपहर बाद तक शहर में बिजली और पानी की आपूर्ति भी पूरी तरह बंद रही। यहां नेशनल हाईवे पर बस स्टैंड चौक, किठवाड़ी चौक, रसूलपुर चौक, आगरा चौक व रेस्ट हाउस के सामने, रेलवे रोड, पुराना जीटी रोड, न्यू कॉलोनी आदि जलमग्न दिखाई दिया।

फरीदाबाद व पलवल में बारिश का विवरण

फरीदाबाद में 68 एमएम, तिगांव में 30 एमएम, बल्लभगढ़ में 30 एमएम, मोहना में 23 एमएम, दयालपुर में 25 एमएम, बड़खल मं 58 एमएम, धौज में 76 एमएम, गोंछी में 43 एमएम बारिश रिकॉर्ड हुई। इसी तरह पलवल में 40 एमएम, होडल में 18 एमएम, हथीन में 58 एमएम, बहीन में 42 एमएम व हसनपुर में 10 एमएम बारिश दर्ज की गई।

Leave a Comment