लापता बच्चों को सामने पाकर परिजन हुए गदगद

0

Faridabad/Atulyaloktantra News : पुलिस टीम ने आठवीं कक्षा के लापता 3 छात्रों को अंबाला से बरामद कर सकुशल उनके परिजनों को सौंपा तो अपनी आंखों के तारों को सामने देख परिजन खुशी से गदगद हुए। परिजन पुलिस के मुरीद हुए व उन्होंने इसके लिए फरीदाबाद पुलिस का दिल से आभार जताया।

laapata bachchon ko saamane paakar parijan hue gadagad
laapata bachchon ko saamane paakar parijan hue gadagad

3 अक्टूबर 2018 को घर से अमृतसर गोल्डन टैंपल देखने निकले टैंगोर स्कूल के आठवीं कक्षा के तीन बच्चों के लापता होने की खबर पर पुलिस ने तुरंत थाना सेक्टर 7 में मुकदमा दर्ज कर मामले को अधिकारियों के संज्ञान में लाया गया।

पुलिस आयुक्त श्री अमिताभ सिंह ढिल्लों ने तीन बच्चों की गुमशुदगी के मामले को गंभीरता से लेते हुए तुरंत डीसीपी क्राइम , एसीपी सिटी बल्लभगढ़ को निर्देश देते हुए क्राइम ब्रांच, मिसिंग पर्सन सेल सहित 7 टीम तैयार की गई। एसीपी सिटी बल्लभगढ़ के नेतृत्व में सभी टीमों ने तालमेल से कार्य करते हुए पुलिस ने मात्र छह घंटे में अंबाला कैंट से तीनों बच्चों को तलाश कर बरामद किया गया है।

एसीपी सिटी बलबीर सिंह की जीआरपी पुलिस का सहयोग लेकर इन तीनों बच्चों बरामदगी मे अहम भूमिका रही। एसीपी कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में गुरुवार को एसीपी बलवीर सिंह ने बताया कि सेक्टर-तीन स्थित टैंगोर स्कूल के आठवीं कक्षा के तीन बच्चे अर्जुन, तुषार व अमनदीप उम्र 12-13 साल स्कूल की छुट्टी होने के बाद घर नहीं पहुंचे। वह मेट्रो स्टेशन से पुरानी दिल्ली स्टेशन पहुंच गए। यह अपने स्कूल बैग में अपने कुछ कपड़े व पैसे भी ले गए। इसके बाद वह जम्मू को जाने वाली उत्तरक्रांति नामक ट्रेन में बैठने के लिए टिकट लेने की जुगत में थे, लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिली। इधर, इन बच्चों के माता-पिता ने पुलिस चौकी सेक्टर 3 में गुम गुमशुदगी लिखवाई थी।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here