खट्टर सरकार को बेटियों को सुरक्षित करने के मुद्दे पर भी काम करना चाहिए : पराग शर्मा

Faridabad/Atulya Loktantra : बल्लभगढ़ में किशोरी लीज़ा की विकृत तरीके से की गई हत्या के प्रकरण ने हरियाणा ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण देश को झकझोर कर रख दिया है, मीडिया में आई रिपोर्टों के बाद कई सारे गैर-सरकारी संगठनों ने दोषी को फाँसी की सज़ा की अपील के साथ मोर्चा खोल दिया है, इसी क्रम में फरीदाबाद बार एसोसिएशन के प्रधान संजीव चौधरी एवं अधिवक्ता, कांग्रेस नेत्री पराग शर्मा ने आज बार एसोसिएशन में प्रेसवार्ता बुलाकर फरीदाबाद, हरियाणा, दिल्ली एन.सी.आर. के अधिवक्ताओं साथियों से इस हत्याकांड के आरोपी को किसी भी प्रकार की कानूनी पैरवी न देने की अपील की।

इस बाबत फरीदाबाद बार एसोसिएशन के प्रधान संजीव चौधरी ने कहा कि

यह हत्याकांड मानव जाति को शर्मसार करने वाला है, संजीव ने कहा कि मैं हरियाणा, दिल्ली एन.सी.आर. के अपने अधिवक्ता साथियों से अपील करता हूँ कि समाज के ऐसे दरिंदों को वो किसी भी कीमत पर किसी भी प्रकार की कानूनी सलाह या पैरवी उपलब्ध न कराएं, जिससे ऐसे कृत्य करने से पहले अपराधी परिणाम के बारे में सैकड़ों बार सोचें, अधिवक्ता एवं कांग्रेस नेत्री पराग शर्मा ने कहा यह एक जघन्य हत्याकांड है |

इस प्रकरण पर खट्टर सरकार को आड़े हाथों लेते हुए पराग ने कहा कि हरियाणा सरकार महिलाओं की सुरक्षा करने में पूर्णत: उदासीन रही है, तभी ऐसे प्रकरण निरंतर समाज में सामने आ रहे हैं,

पराग ने इस प्रकरण को निर्भया पार्ट 2 बताते हुए न्यायालय से दोषी को फाँसी की सजा की अपील की, पराग ने कहा कि खट्टर सरकार को बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ से ज्यादा बेटियों को सुरक्षित करने के मुद्दे पर भी काम करना चाहिए, जब तक महिलाओं के अंदर असुरक्षा की भावना रहेंगी, तब तक न बेटी सही ढंग से पढ़ पाएगी, न ही आगे बढ़ पाएगी।

फरीदाबाद बार एसोसिएशन की प्रेसवार्ता में कई अधिवक्ताओं के साथ-साथ कई समाजसेवी यथा- प्रत्यूष शर्मा, मनोज रावत, वंदना सिंह, अंशू चार्या, ध्रुव कुमार, बिजेंद्र के अलावा लीज़ा के माता-पिता एवं गैर-सरकारी संगठन के कई लोग भी मौजूद थे, जिन्होंने एक स्वर में लीज़ा के दोषियों को न्यायालय से फाँसी की सजा देने की अपील की।

Leave a Comment