अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़, तीन आरोपी गिरफ्तार

एनसीआर में करीब वाहन चोरी की 60 वारदातों को दे चुके हैं अंजाम
फरीदाबाद, 17 जून । अपराध शाखा एनआईटीने अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ करके तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। आरोपी एनसीआर में करीब 60 वारदातों को अंजाम दे चुके है। पुलिस प्रवक्ता के अनुसार उक्त तीनों आरोपियों को गांव मवई से गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान अनिल निवासी गांव जवा सिकंदरपुर अलीगढ़, रणजीत निवासी गांव शाहपुर थाना इगलास जिला अलीगढ़, भूपेंद्र उर्फ भोलू पुत्र विजय सिंह निवासी बदरोला फरीदाबाद के रुप में हुई है। क्राईम ब्रांच प्रभारी ने बताया कि आरोपियो के संबंध में गुप्त सूत्रों से सूचना मिली जिस पर कार्रवाई करते हुए तीनों आरोपियो को मवई गांव से चोरी सुदा वैगनार कार सहित गिरफ्तार कर लिया गया। वैगनआर गाड़ी चेक करने पर दिल्ली से चोरी होना पाया गया जिस पर दिल्ली में मामला दर्ज है। आरोपियो से अन्य कई मुकदमों का खुलासा हुआ है। जिसमें फरीदाबाद के खेडी थाना में 3, थाना सारन, सराय ख्वाजा, सैक्टर-7, सूरजकुण्ड में 1-1 मुकदमें दर्ज है। आरोपी से फरीदाबाद जिले की उपरोक्त 7 वारदात सुलझाई गई है। आरोपियो से 1 वैगनआर,1 सेंट्रो, 1 इको कार, 3 मोटरसाइकिल, चोरी में प्रयोग 3 चाबी बरामद की गई है। आरोपी अनिल ने पूछताछ में बताया कि चोरी के मुकदमों में फरीदाबाद ,उत्तर प्रदेश ,दिल्ली की जेलों में वाहन चोरी में बंद रह चुका है। आरोपी चोरी का गिरोह बनाकर चोरी करता है आरोपी नशा वा अय्याशी करने का आदी है। आरोपी ने बताया कि आरोपी पर पहले लगभग 50 चोरी के मुकदमें दिल्ली में दर्ज है। जो इस प्रकार है- 37 मुकदमें दर्ज है, 3 मुकदमें एनईबी सराय दिल्ली में, थाना अशोक नगर, मैहरोली, शादरा,वसन्त कुंज, हरी नगर में 1-1 चोरी के मुकदमें दर्ज है। आरोपी भूपेंद्र उर्फ भोलू ने पूछताछ में बताया कि वह अनिल, रणजीत के साथ मिलकर फरीदाबाद में गाडिय़ां चोरी करता था। आरोपी पहले भी कई मुकदमों में दिल्ली व फरीदाबाद जेल में रह चुका है। फरीदाबाद में पूर्व में दर्ज दो मुकदमें सैक्टर-7 में दर्ज है। आरोपी रणजीत साथियों के साथ गाडिय़ों को स्टार्ट करने में गाडिय़ों की रेकी करने में तथा गाडिय़ों को ले जाने में मदद करता था। आरोपी से एक वैगनआर, एक सेंट्रो, एक इको कार, 3 मोटरसाइकिल बरामद की गई है। पुलिस टीम आरोपी रणजीत को पहले गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है आरोपी भूपेंद्र और अनिल को अदालत में पेश किया जहां से माननीय अदालत ने आरोपी भूपेंद्र को जेल भेज दिया एवं आरोपी अनिल को 2 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया, आरोपी अनिल से रिमांड के दौरान अन्य चोरी की वारदात का खुलासा होने की भी संभावना है।

Leave a Comment