जिला के सभी तहसील कार्यालयों में एक सप्ताह के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगाएं : जिला उपायुक्त विक्रम

– सभी तहसीलदारों व नायब तहसीलदारों के दिए काम में पूरी तरह पारदर्शिता बरतने के निर्देश

– कार्यालयों में समय दें अधिकारी, अगर अन्य ड्यूटी पर हैं तैनात तो कार्यालय से इसकी सूचना आम जनता को दी जाए

– जमाबंदी, कोर्ट केस व स्वामित्व संबंधी सभी मामलों को भी प्राथमिकता के तौर पर निपटाने के दिए आदेश

फरीदाबाद, 20 सितंबर। जिला के सभी तहसील कार्यालयों में पारदर्शिता के साथ आम जनता को समय पर सुविधाएं देने के लिए जिला उपायुक्त विक्रम यादव ने निर्देश दिए हैं कि जिला की सभी तहसील व उप तहसील कार्यालयों में एक सप्ताह के अंदर-अंदर सीसीटीवी कैमरे लगाना सुनिश्चित करें। इसकी रिपोर्ट भी उन्हें भिजवाएं ताकि प्रत्येक कार्य पर नजर रखी जा सके। उपायुक्त विक्रम मंगलवार को लघु सचिवालय के प्रथम तल स्थित कांफ्रेंस हाल में जिला के राजस्व अधिकारियों के साथ समीक्षा मीटिंग आयोजित कर रहे थे।

उपायुक्त ने मीटिंग में प्रत्येक तहसील की क्रमश: समीक्षा करते हुए तहसीलदारों व नायब तहसीलदारों को निर्देश दिए कि हम सभी सीधे जनता से जुड़े हुए अधिकारी हैं। राजस्व विभाग से जुड़े हुई कई कार्यों के लिए प्रत्येक व्यक्ति को उपायुक्त कार्यालय, उपमंडल अधिकारी (ना.) कार्यालय व तहसील-उप तहसील कार्यालय में आना पड़ता है। ऐसे में हमें उन्हें समय पर सेवाएं उपलब्ध करवानी होंगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक अधिकारी अपने कार्यालय में अवश्य बैठे। उन्होंने कहा कि राजस्व अधिकारियों को ड्यूटी मैजिस्ट्रेट व वीआईपी ड्यूटी सहित कई कार्य करने पड़ते हैं। ऐसे में अगर अधिकारी इन ड्यूटियों पर है तो वह अन्य किसी कर्मचारी को इसकी जानकारी हो और वह इसकी सूचना अपने कार्य से आने वाले व्यक्ति को अवश्य दे। उपायुक्त ने निर्देश देते हुए कहा कि हमें अपने कार्यों में भी पूरी तरह से पारदर्शिता बरतनी है ताकि प्रत्येक नागरिक को संतुष्ट किया जा सके।

उन्होंने सभी तहसीलों व उप तहसीलों के जमाबंदी संबंधित कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि पटवारियों की अतिरिञ्चत ड्यूटी लगाकर इस कार्य को समय पर पूरा करें। उन्होंने कहा कि इसके लिए सभी तहसील लगातार समीक्षा करें और उपमंडल  अधिकारी (ना.) भी इस कार्य पर नजर रखें। उन्होंने कोर्ट व स्वामीत्व योजना से संबंधित सभी कार्यों की प्रगति रिपोर्ट जानी व उनका कानूनी ढंग से निपटान करने के निर्देश दिए। मीटिंग में अतिरिक्त उपायुक्त अपराजिता, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद, एसडीएम बडख़ल पंकज सेतिया, डीआरओ बिजेंद्र राणा, डीआईओ मुनीष बाबू गुप्ता, तहसीलदार फरीदाबाद व बडख़ल नेहा सहारण, तहसीलदार बल्लभगढ़ भूमिका लांबा, नायब तहसीलदार गौच्छी बलकार सिंह, नायब तहसीलदार तिगांव अजय कुमार, नायब तहसीलदार मोहना ओमकार, नायब तहसीलदार धौज करण कुमार, नायब तहसीलदार बडख़ल सुरेश कुमार, नायब तहसीलदार दयालपुर उमेश कुमार सहित राजस्व विभाग से जुड़े हुए कई अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Comment