विश्व पर्यटन दिवस पर छात्रों को बताया पर्यटन का महत्व

0

Faridabad/Atulya Loktantra : राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की जूनियर रेडक्रास और सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड ने प्राचार्या नीलम कौशिक की अध्यक्षता में आयोजित विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर पर्यटन को बढ़ावा देने का संदेश देते हुए चित्रकारी के माध्यम से जागरूक किया।

विद्यालय के अंग्रेजी प्रवक्ता रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने मौके पर कहा कि हर साल अलग-अलग देश विश्व पर्यटन दिवस की मेजबानी करते हैं। आप सब को जानकर खुशी होगी कि पहली बार विश्व पर्यटन दिवस की मेजबानी भारत कर रहा है। लोगों को जागरूक करने के लिए विश्व पर्यटन दिवस की एक थीम रखी जाती है, जो हर साल बदलती रहती है। इस बार विश्व पर्यटन दिवस की थीम ”टूरिज्म एंड जॉब – अ बेटर फ्यूचर फॉर ऑल” है। भारत विश्व के प्रथम पांच पर्यटक स्थलों में से एक है, ग्रामीण क्षेत्रों में भी रोजगार के अनेक अवसर पैदा हो रहे हैं।

साल 2018 में टूरिज्‍म सेक्‍टर का देश की जी डी पी में 9.2 प्रतिशत का योगदान था। चीन, रूस और ब्राजील जैसे उभरते बाजार अब टूरिज्‍म पर खुलकर खर्च कर रहे हैं। कई देशों में पर्यटन उद्योग में वार्षिक वृद्धि 8% से ज्‍यादा है। विश्व पर्यटन की बात करें तो सबसे ज्‍यादा पर्यटक फ्रांस की यात्रा करते हैं। इसके बाद स्‍पेन, अमेरिका और चीन का नंबर आता है। ये विकासशील देशों के लिए आय का मुख्य स्रोत भी है।

मनचन्दा ने बच्चों को कहा कि अपने पर्यटन स्थलों को साफ स्वच्छ एवम् आकर्षक बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है, क्योंकि पर्यटन के माध्यम से हमें अपनी संस्कृति के आदान प्रदान का और रोजगार सृजित करने का अवसर मिलता है, क्योंकि पर्यटन अब उद्योग बन चुका है और यह अपार संभावनाओं वाला उद्योग है। बच्चों नीतू, कोमल, वर्षा, प्रीति, गुंजा, अर्पिता, प्रिया, चेतन्या, कीर्ति आदि ने चित्रकारी के सौजन्य से पर्यटन स्थलों को स्वच्छ व सुविधासंपन्न बनाए रख अतुलनीय भारत बनने का संदेश दिया। इस मौके पर प्राचार्या नीलम कौशिक, रविन्द्र कुमार मनचन्दा, रेणु शर्मा, संजय शर्मा सहित सभी प्राध्यापक साथियों ने पर्यटकों को कभी कोई कठिनाई न हो, विशेष ध्यान रखने का संदेश दिया।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here