मोबाइल फोन के लिए दोस्त ने की दोस्त की हत्या

3

फरीदाबाद। क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 ने एक ऐसी हत्या की गुत्थी सुलझाई है, जिसमें मोबाइल फोन का लॉक खुलवाने के चलते मृतक और आरोपी में हुई दोस्ती चौथे दिन हत्या का कारण बन गई और आरोपी मोनू ने मृतक विवेक के सिर में पत्थर मारकर उसकी हत्या कर दी थी। प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 सब इंस्पेक्टर सुमेर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी की पहचान मोनू पुत्र गजेंद्र सिंह निवासी गांव पिपैहरा उत्तर प्रदेश हाल किराएदार बसेलवा कॉलोनी ओल्ड फरीदाबाद के रूप में हुई है। पूछताछ पर आरोपी मोनू ने बताया कि वह करीब 6 महीने से अपनी मौसी के बेटा संदीप पुत्र कल्याण के साथ किराये का कमरा बसेलवा कालोनी ओल्ड फरीदाबाद मे रह रहा है और ओल्ड फरीदाबाद व नहर पार के आस पास ई- रिक्शा चलाता है। 28 फरवरी 2021 को आरोपी मोनू अपने ई- रिक्शा में सामान लेकर अमोलिक चौक के पास सै.87 फरीदाबाद आया था तब आरोपी मोनू की मुलाकात मृतक विवेक से हुई थी। उस समय मृतक विवेक ने बताया कि वह किसी के पास कोई काम सीखने के लिए गोपी कालोनी औल्ड फरीदाबाद जा रहा है आपका कोई जानकार हो तो मेरा काम लगवा दो। इसी दौरान मृतक विवेक ने आरोपी मोनू को कहा कि मैने अपने मोबाईल फोन पर लाक लगाया था जो मै पासवर्ड भूल गया अगर आप को लाक खोलना आता हो तो मेरे मोबाईल का लाक खोल दो जो आरोपी मोनू ने कहा कि फोन दिखाओ फिर मृतक विवेक ने आरोपी मोनू को अपना मोबाईल फोन दिखाया जो अच्छा फोन था। मोबाईल फोन देखकर आरोपी मोनू के मन मे लालच आ गया और मोबाईल फोन का लाक खोलने का बहाना बनाकर मोबाईल को लेकर अपने पास रख लिया। कई बार मांगने पर जब फोन नहीं दिया तो वह आरोपी मोनू, मृतक विवेक को सै 28/29 चौक पर छोडने लगा तो मृतक विवेक ने कहा कि भैया मुझे कल अपने गांव जाना है मुझे अपना मोबाईल फोन आज ही चाहिये मै आपके साथ उस दुकान पर चलूगा जहां आपने मेरा फोन दे रखा है। जिस पर वह उसे सेक्टर-17 के पुल से नहर के साथ वाले रास्ते पर ले गया और पत्थर सिर पर मारकर व गला घोंटकर उसकी हत्या कर शव नहर में फैंक दिया। अगले दिन पुलिस को वहां से लाश मिली तो पुलिस जांच में जुट गई। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर आरोपी को अदालत में पेश कर 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लेकर आरोपी से मृतक विवेक का मोबाइल फोन ओप्पो, वारदात में प्रयोग ई रिक्शा, वारदात के समय आरोपी मोनू द्वारा पहने हुए कपड़े बरामद कर आज आरोपी का पुलिस रिमांड पूरा होने पर अदालत में पेश कर जेल भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here