महिला IAS के साथ हुई घटना को पूर्व मंत्री ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण, बोले डिप्टी CM को बर्खास्त किया जाए और पुलिस प्रशासन को सस्पेंड

4

डिप्टी CM के कार्यक्रम में महिला IAS के साथ हुई छेड़खानी की घटना को कांग्रेस के पूर्व मंत्री करण सिंह दलाल ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि इस घटना ने प्रदेश की महिलाओं का अपमान किया है। जिस डिप्टी CM के कार्यक्रम में ये घटना हुई उन्हें तुरंत मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया जाए और वहां मौजूद सभी पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों को सस्पेंड किया जाना चाहिए। उन्होंने CID पर सवााल उठाते हुए कहा कि इनका काम सिर्फ आंदोलनकारियों की खोजबीन भर करना रह गया है। डिप्टी CM के कार्यक्रम में उन्हीं की पार्टी का कार्यकर्ता घुसकर ऐसी हरकत कर बैठता है और CID को भनक तक नहीं लगती। दलाल यहां मैगपाई में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। इस मौके पर पूर्व पार्षद जगन डागर, राजेंद्र भामला आदि माैजूद रहे।

दलाल ने कहा कि डिप्टी CM के काफिले में ऐसे लोगों का शामिल होना ये दर्शाता है कि जब जब भी प्रदेश में BJP और दूसरे दलों की सरकार रही है। इसी तरह की गुंडागर्दी होती है और प्रशासन मूकदर्शक बना रहता है। उन्हाेंने कहा कि इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी अभी न तो सरकार ने कोई संज्ञान लिया और न ही महिला आयोग ने। भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए दलाल ने कहा कि यहां के राजनेता प्रॉपर्टी डीलर बन गए हैं। पुलिस प्रशासन उनके लिए एजेंट का काम कर रहे हैं। अरावली में लूट मची पड़ी है। पहाड़ खत्म हो रहे हैं। कहां गया मनोहर का भ्रष्टाचार मुक्त शासन का नारा।

प्रदेश के लिए खतरे की घंटी

दलाल ने कहा कि एक IAS के साथ छेड़छाड़ की घटना प्रदेश के लिए खतरे की घंटी है। बीजेपी का बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नाम महज छलावा है। जब IAS सुरक्षित नहीं है तो आम महिलाओं का क्या होगा अंदाजा लगाया जा सकता है।

सत्ताधारी नेताओं को गिरोह का सरगना बताया

दलाल ने ये भी आरोप लगाया कि सत्ताधारी नेता गिरोह के सरगना बने बैठे हैं। नगर निगम से लेकर अरावली तक हर जगह लूट मची है। चौकी थाने बिके हैं। उधर भाजपा के जिलाअध्यक्ष गोपाल शर्मा ने कहा कि कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है। इसलिए वह ऐसे अर्नगल आरोप लगा रहे हैं। यदि कोई सबूत हो तो उसे लाए। सिर्फ राजनीति चमकाने के लिए ऐसे आरोप लगाना ओछी राजनीति है। जहां तक महिला अधिकारी के साथ हुई घटना का सवाल है तो ऐसे शरारती तत्व कहीं भी हो सकते हैं। कानून ने अपना काम किया। उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here