नहर में कूदी 19 वर्षीय महिला को ईआरवी डायल 112 के सिपाही रविंद्र ने अपनी जान जोखिम मे डालकर सुरक्षित बाहर निकाला

फरीदाबाद: पुलिस एक तरफ जहां अपराधियों के लिए यमदूत बनकर आती है वहीं दूसरी ओर मुसीबत में फंसे नागरिकों की सुरक्षा के लिए फरिश्ता बनकर उनकी मदद भी करती है। इसी प्रकार का आयाम स्थापित किया है फरीदाबाद पुलिस की ईआरवी डायल 112 की टीम ने मामूली बातों के मनमुटाव से नहर में कूदी एक महिला को अपनी जान पर खेलकर सकुशल बाहर निकाल उसकी जान बचाने का सराहनीय कार्य किया है।

ईआरवी टीम को दोपहर करीब 3:00 बजे सूचना प्राप्त हुई कि एक महिला ने खुदकुशी के इरादे से खेड़ी पुल पर नहर में छलांग लगा दी है। सूचना मिलते ही ईआरवी डायल 112 की टीम तुरंत मौके पर पहुंची। ईआरवी टीम में एसआई रामचंद्र, सिपाही रविंदर और संदीप मौजूद थे। महिला की जान की सुरक्षा को देखते हुए सिपाही रविंद्र ने आव देखा न ताव और बावर्दी नहर में छलांग लगा दी वहीं उनके साथियों ने रविंदर को बाहर निकालने के इंतजाम करने में जुट गए। सिपाही रविंदर की बहादुरी व सूझबूझ ने महिला को बाहर निकालने में अहम भूमिका निभाई और कड़ी मशक्कत के पश्चात महिला को सकुशल बाहर निकाल लिया गया। बाहर निकालने के पश्चात महिला को l प्राथमिक चिकित्सक सहायता दी गई जिससे महिला की जान बच गई। महिला के माता पिता भी मौके पर मौजूद थे। महिला को सुरक्षित थाना खेड़ीपुल के हवाले कर दिया गया जहां पर महिला के बयान दर्ज किए गए। पूछताछ में सामने आया कि महिला की आयु 19 वर्ष है और 4 महीने पहले ही उसकी शादी हुई थी। महिला का ससुराल भी फरीदाबाद में ही है। महिला के माता पिता द्वारा दर्ज करवाए गए बयान के मुताबिक उनकी बेटी छोटी-छोटी बात को लेकर गुस्सा हो जाती है। महिला ने किसी छोटी सी बात को लेकर नहर में छलांग लगा दी थी। इसमें किसी का कोई दोष नहीं है। ब्यान दर्ज करवाने व अन्य औपचारिकताएं पूरी करवाने के पश्चात महिला को सुरक्षित उनके माता पिता के हवाले किया गया और उन्हें महिला को प्यार से समझाने तथा उसके साथ बैठकर छोटी-मोटी नाराजगी दूर करने की हिदायत दी गई। पुलिस कमिश्नर विकास अरोड़ा को जैसे ही इसकी सूचना प्राप्त हुई तो उन्होंने पूरी ईआरवी टीम को बहादुरी और होंसले के साथ महिला की जान बचाने के लिए शाबाशी देते हुए कहा कि इस प्रकार के बहादुर पुलिसकर्मियों पर उन्हें गर्व है। पुलिसकर्मी इसी प्रकार बुद्धिमता और बहादुरी के साथ नागरिकों की सहायता करके उनके विश्वास का पात्र बने और अपने साथियों को भी इसी प्रकार के सराहनीय कार्य करने के लिए प्रेरित करते रहें।

Leave a Comment