प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वीडियो कांफ्रेंस में शामिल हुए उपायुक्त यशपाल यादव

0
19

फरीदाबाद, 20 मई । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के तीसरे दौर के लिए वैज्ञानिकों द्वारा दिए गए सुझाव पर हमें और भी सतर्कता के साथ कार्य करना होगा। वैज्ञानिकों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार वैश्विक महामारी कोराना संक्रमण के तीसरे दौर में युवा और बच्चों के लिए ज्यादा चिंता जताई गई है। इसके लिए और अधिक तैयारी के साथ कार्य करना होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए देश के 8 प्रांतों के मुख्यमंत्रियों और 60 जिलों की जिला उपायुक्तों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सीधा संवाद कर रहे थे। वीडियो कांफ्रेंस में फरीदाबाद से उपायुक्त यशपाल शामिल हुए। वीडियो कांफ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र ने कहा कि पिछले 100 वर्षों के बाद यह वैश्विक महामारी इतने बड़े स्तर पर देश में आई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्रियों, जिला उपायुक्तों तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों को अपने द्वारा आज आपदा के समय किए गए कार्यों को आने वाली पीढिय़ों के लिए बचाए रखना होगा ताकि भविष्य में कोई ऐसी वैश्विक महा आपदा/ बीमारी आती है तो उसके लिए यह अनुभव साझा किए जा सके। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना की दूसरी वेब से लडऩे के लिए देश के सभी जिलों में प्रशासन द्वारा बेहतर तरीक़े से कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि सभी ने इस चैलेंज को संवेदीनशीलता के साथ एक चुनौती के रूप में लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि हमें जन-जन तक पहुंचकर और अधिक पैमाने पर तीसरे चरण को रोकने के लिए कार्य करना होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि तीसरे चरण से बचने के लिए देश में वैक्सीन की सप्लाई और सुदृढ होगी। टीकाकरण अभियान में बहुत बड़ी सुविधा सरकार द्वारा प्रशासन को दिलवाने का प्रयास किया जाएगा। वीडियो कांफ्रेंस के पश्चात उपायुक्त यशपाल ने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए सुझाव पर अमल करते हुए और अधिक गंभीरता से कार्य करना है। उन्होंने कहा कि हमने पिछले कुछ दिनों में बेहतरीन कार्य किया है लेकिन चुनौतियां हमारे सामने अभी समाप्त नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि फिलहाल हमें शहर के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों पर ज्यादा फोकस करना है। उपायुक्त ने निर्देश दिए कि सभी अधिकारी प्रत्येक गांव में जांच अभियान तेज करें। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक कांटेक्ट ट्रेसिंग करें और प्रत्येक व्यक्ति को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करें। वीडियो कांफ्रेंस में फरीदाबाद से उपायुक्त यशपाल के अलावा अजय तोमर आईएएस, एसडीएम बडख़ल पंकज सेतिया, सीएमओ डॉ रणदीप सिंह पुनिया, सीएमजीजीए रुपाला सक्सेना सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here