पुलिस आयुक्त से मिला पब्लिक राइट्स प्रोटक्शन फोरम संस्था का प्रतिनिधिमंडल

शहर की सुरक्षा सहित कई मुद्दों पर रखे सुझाव

फरीदाबाद। पुलिस आयुक्त  विकास अरोड़ा के फरीदाबाद का कार्य भार संभालने पर पब्लिक राइट्स प्रोटक्शन फोरम संस्था के प्रधान एस के सचदेवा  ने अपने पदाधिकारियों के साथ जिसमें उपरधान श्याम सुन्दर कपुर,  सचिव विपिन गुलाटी,मैंबर कपिल मलिक,मैंबर एस के वर्मा ,मैंबर दर्शन मलिक, उद्योगपति अजय जुनेजा, मिडिया सचिव ओम प्रकाश चुध, भीम सैन  अवम अन्य मैबर गण पुष्प भेंट कर सम्मानित किया। उसके बाद उनको संस्था के मुल उद्देश्यों  के बारे मे लिखित एवम् मोखिक रूप से अवगत करवाया और बताया कि आम नागरिकों की मुलभत समस्याओं का  सरकार के सहयोग से निवारण करते हैं। प्रधान एस के सचदेवा ने शहर के नागरिकों की पुलिस द्वारा गाडिय़ों की पकड़-धकड़ एवम जनता की समस्याओं पर चर्चा की। इस कडी में 10 वर्ष  डीजल या 15 वर्ष पैट्रोल के वाहनों पर करवाई को विवेक अनुसार किए जाने का  अनुरोध किया। इस पर पुलिस आयुक्त ने सर्वोच्च न्यायालय का हवाला देते हुए उनकी अनुपालन करने का संकल्प दोहराया जो कि जनहित में है पर सचदेवा ने अपनी बात रखी कि वाहन को पंजीयण प्रमाण पत्र की तारीख के हिसाब से ही जब्त करना चाहिये, इस बात को उन्होंने मूलरूप से माना। अजय जुनेजा ने भी अपनी बात रखी ओर बताया कि उद्योगपतियों को उनके कारखानों की चोरी डकैती तथा अन्य बदमाशी रोकने के लिए संवेदनशील स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे पुलिस द्वारा लगावाये जाने चाहिए। शहर में अन्य स्थानों पर कैमरे पहले ही उपलब्ध  है इसी प्रकार श्याम सुंदर कपूर ने पुलिस आयुक्त से शहर में कानून व व्यवस्था बनाने में पुलिस का योगदान सक्रिय करने तथा  अपनी संस्था की तरफ से पूरा सहयोग देने आश्वासन दिया। कपिल मलिक ने पुलिस आयुक्त को आल इंडिया मैन्युफैक्चरर्र ऑर्गेनाइजेशन द्वारा हरियाणा फरीदाबाद में अनियमित उद्योगों के लिए किए जा रहे कार्यों को अवगत करवाया। विपिन गुलाटी ने पुलिस आयुक्त को संस्था की ओर से पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया।  पुलिस आयुक्त ने संस्था के अनुरोध पर मासिक मीटीग रखने को स्वीकार किया वह अगले महीने 21 अक्तूबर अंत में दर्शन मलिक ने संस्था की  ओर से पुलिस आयुक्त का अपना कीमती समय देने के लिए धन्यवाद किया।

Leave a Comment