डालसा ने एक दिन में आयोजित किए 148 गांवों में लीगल लिटरेसी कार्यक्रम: सीजेएम मंगलेश कुमार चौबे

– नीमका जेल में भी किया बन्दियों को कानूनी मौलिक कर्तव्यों के बारे जागरूक

फरीदाबाद,10 नवम्बर। सीजेएम कम् डालसा के सचिव मंगलेश कुमार चौबे ने बताया कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं चेयरमैन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण यशवीर सिंह राठौर के दिशा-निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण फरीदाबाद द्वारा कानूनी सेवा दिवस के उपलक्ष में जिला के 148 गांवों में कानूनी जागरूकता एवं सेवा कार्यक्रम आयोजित किए गए। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के 50 पैनल एडवोकेट, 18 पैरा लीगल वालंटियर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता वआशा वर्करों ने मिलकर सयुंक्त रूप से जिला भर के गांव- गांव जाकर यह कार्यक्रम आयोजित किए।

सीजेएम ने बताया कि इन कार्यक्रमों में लोगों को कानूनी मौलिक कर्तव्यों की जानकारी दी गई। कानून के बारे में मौलिक कर्तव्यों और मौलिक अधिकारों की बुकलेट में पंपलेट भी वितरित किए गए। कानूनी जागरूकता कार्यक्रमों में लोगों की समस्याओं का निदान भी किया गया। कार्यक्रमों में लोगों से उनकी परेशानियों के बारे में कानून से संबंधित 11 शिकायतें ली गई जिन का निदान जल्दी-से-जल्दी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के माध्यम से किया जाएगा।

मंगलेश कुमार चौबे ने बताया कि इसी कड़ी में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में स्कूलों, कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों में चल रहे लीगल लिटरेसी सेल व क्लब पर भी कानूनी सेवा दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। जिनमें ड्राइंग कंपटीशन, एस्से राइटिंग कंपटीशन, स्लोगन राइटिंग कंपटीशन, डिबेट सहित अन्य कानूनी जागरूकता प्रोग्राम आयोजित किए गए।

उन्होंने बताया कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के माध्यम से इस अवसर पर एक ट्रेनिंग प्रोग्राम जिला जेल नीमका में स्टाफ और बन्दियों के लिए आयोजित किया गया। जहां पर उन्हें कानूनी तौर पर जागरूक किया गया, साथ-ही-साथ एक लोक अदालत का भी आयोजन किया गया। जिसमें 17 केस रखे गए तथा दो केसों का निदान मौके पर कर दिया गया तथा दो विचाराधीन कैदियों को रिहा किया गया। जोकि वे किसी दूसरे केस में वांछित नही थे।

इस अवसर पर इसके अतिरिक्त जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के माध्यम से मूट कोर्ट का आयोजन बीएस अनंगपुरिया लॉ कॉलेज में, गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल तिलपत के बच्चों के साथ मिलकर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा एक रैली का आयोजन भी किया गया। जिनके द्वारा लोगों को कानूनी सेवाओं के बारे में जागरूक किया गया तथा ड्राइंग कंपटीशन भी अलग-अलग कानूनी विषयों पर आयोजित करवाया गया। उन्होंने बताया कि बच्चों को इस माध्यम से कानूनी सेवा दिवस की जानकारी दी गई। स्लोगन, निबंध लेख पर भी बच्चों द्वारा एक कंपटीशन गवर्नमेंट गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल एनआईटी में अलग-अलग कानूनी विषय पर आयोजित किया गया। एक कार्यक्रम हिंदुस्तान स्काउट के साथ मिलकर जिला न्यायालय परिसर सेक्टर-12 फ्रंट ऑफिस पर आयोजित किया गया। जिसमें बुक्स व पंपलेट का वितरण किया गया व लिटिगेंट्स को कानूनी विषयों पर जागरूक किया गया। इसी समय पर एडीआर मेडिएशन व पीएलए पर एक वीडियो भी तैयार की गई। इस कानूनी दिवस के अवसर पर जिला जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा लगभग 70 हजार लोगों को जागरूक किया गया।

Leave a Comment