अतुल्य लोकतंत्र न्यूज़

क्राइम ब्रांच 17 ने ऑनलाइन कसीनो खिलाने वाले एक तथा खेलने वाले चार आरोपियों को किया गिरफ्तार, 3 लैपटॉप, 2 डेस्कटॉप कंप्यूटर तथा 67500 रुपए नकद बरामद

फरीदाबाद: डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादियान द्वारा जुए के मामलों में आरोपियों की धरपकड़ के दिशा निर्देश के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच 17 प्रभारी अशोक कुमार की टीम ने जुए के मुकदमे में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में धीरज, आलोक, अरुण, संतु कथा चंद्रेश का नाम शामिल है। सभी आरोपी फरीदाबाद के रहने वाले हैं। क्राइम ब्रांच की टीम पुलिस थाना कोतवाली में गश्त कर रही थी कि गुप्त सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई की एनआईटी का रहने वाला आरोपी धीरज अपने घर पर ऑनलाइन जुआ खिलाता है और फिलहाल एनआईटी टाउन नंबर एक में स्थित अपने घर में ऑनलाइन कसीनो खिला रहा है। सूत्रों की सूचना पर तुरंत कार्रवाई करते हुए डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादियान निर्देशानुसार क्राइम ब्रांच की टीम आरोपी के घर पर पहुंची जहां आरोपी अलग-अलग कमरों में बैठकर पीसीएम क्लाइंट नामक ऐप में कसीनो खेल रहे थे।

आरोपियों से जब पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि धीरज उन्हें ऑनलाइन कसीनो खिलाता है जिसके लिए धीरज ने इस ऐप में अपनी आईडी बना रखी है और उस आईडी से वह बाकी लोगों को जुआ खिलाता है। पुलिस द्वारा आरोपियों के कब्जे से 03 लैपटॉप, 02 डेस्कटॉप कंप्यूटर तथा ₹67500 नकद बरामद किए गए। इसके पश्चात आरोपियों को काबू करके थाने लाया गया और उनके खिलाफ जुआ अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके पूछताछ शुरू की गई। पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी धीरज ने बताया कि उसे ऑनलाइन कसीनो खिलाने के लिए कमीशन मिलता है। यदि खेलने वाले जुए में जीत जाते हैं तो उसे रकम का 5% और यदि वह हार जाते हैं तो उसे 20% कमीशन प्राप्त होता है। इस प्रकार आरोपी ने बताया कि वह जुआ खिलाकर काफी पैसे कमाता है। पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपियों के खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई अमल में लाई गई है।

Leave a Comment