मांगों को लेकर निगम कर्मचारियों ने निगमायुक्त को सौंपा मांगपत्र

फरीदाबाद। नगर निगम कर्मचारियों ने आज भोजन अवकाश के समय निगम मुख्यालय पर कर्मचारियों की आम सभा नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के जिला प्रधान दलीप सिंह बोहत की अध्यक्षता में आयोजित की सभा विसर्जन के बाद नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री के नेतृत्व में संघ के प्रतिनिधिमंडल ने  निगम आयुक्त जितेंद्र कुमार से भेंट कर निगमायुक्त  को आंदोलन का नोटिस एवं मांग पत्र सोपा। निगमायुक्त ने संघ  नेताओं को आश्वासन दिया कि 1 अक्टूबर  के बाद मांगों पर बैठकर विचार विमर्श कर  समस्याओं का समाधान कर दिया जाएगा नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के प्रतिनिधि मंडल में संघ के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री के अलावा संघ के उप महासचिव सुनील चंडालिया, ऑडिटर परशुराम अधाना, राज्य सचिव अनूप वाल्मीकि, सर्व कर्मचारी संघ के जिला सचिव बलवीर सिंह बालगोहर जिला प्रधान दलीप सिंह बोहत, जिला सचिव नानक चंद , सैनिटेशन स्टाफ के प्रधान शिवकुमार, जिला कैसियर अनिल चंडालिया, जूनियर इंजीनियर यूनियन के प्रधान वीर सिंह तेवतिया, सचिव अजय शास्त्री, बेलदार यूनियन के प्रधान शहाबुद्दीन, इलेक्ट्रिकल यूनियन के प्रधान मनोज शर्मा, कार्यालय यूनियन के प्रधान रणजीत शुक्ला, वाटर सप्लाई यूनियन के प्रधान देवी चरण, सचिव राम रतन, सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान गुरु चरण खांडिया, सचिव कृष्ण चंडालिया,  दर्शन सिंह सोया,  सुदेश उजीनवॉल, सहित अन्य विभागों के नेता भी शामिल थे। कर्मचारियों को संबोधित करते हुए नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने कहा कि नगर निगम के कर्मचारी ब्रांच अधिकारियों की कार्यशैली से परेशान है, श्री शास्त्री ने कहा कि वित्त ब्रांच ,  बिल ब्रांच , इंजीनियरिंग ब्रांच , हॉर्टिकल्चर ब्रांच, सैनिटेशन ब्रांच , ईओ ब्रांच सहित अन्य ब्रांचओं के अधिकारी कर्मचारियों के नियमानुसार होने वाले कार्यों को भी करने में कोताही वर्तते  हैं। निगम कर्मचारी स्वच्छता पखवाड़े एवं निगम द्वारा जनता को देने वाली सभी प्रकार की जनसेवाओ को सुचारू रूप से चलाने के लिए तैयार हैं। श्री शास्त्री ने ब्रांच अधिकारियों पर कर्मचारियों को टूल्स एवं सेफ्टी उपकरण उपलब्ध नहीं करवाए जा रहे हैं, पूर्व निगम आयुक्त द्वारा कई बार आदेश करने के बाद भी इंजीनियरिंग ब्रांच के आला अधिकारियों ने कर्मचारियों के लिए हाजिरी साइडों के निर्माण एवं रिपेयर  में अनावश्यक रूप से बाधाएं डाली जा रही हैं। श्री शास्त्री ने नगर निगम को विभिन्न संस्थाओं एवं सरकार द्वारा सफाई व अन्य कार्यों के लिए एवं अन्य संसाधन दिए गए थे जिनका निगम में इस्तेमाल न कर के अधिकारियों ने संसाधनों का दुरुपयोग किया है, उन्होंने इसकी भी जांच की मांग की। श्री शास्त्री ने कहा कि यदि निगम के अधिकारियों ने अपने कार्यशैली में बदलाव नहीं किया तो कर्मचारी लंबा आंदोलन करेंगे। श्री शास्त्री ने राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि राज्य सरकार ने पालिका, परिषद, निगम व अग्निशमन के कर्मचारियों के साथ वायदा खिलाफी की है, जिसके खिलाफ राज्य स्तर पर संघ द्वारा आंदोलन करने का ऐलान किया गया है 22 सितंबर को सभी नगर आयुक्तों( डी.एम.सी.)  एवं नगर निगम आयुक्तों को आंदोलन का नोटिस देकर संघ राज्य आंदोलन की शुरुआत करेगा।

Leave a Comment