महंगाई, भष्टाचार व आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी लगाने के खिलाफ कांग्रेसियों ने किया विरोध प्रदर्शन

धरनास्थल पर रोटी-सब्जी बनाकर भाजपा सरकार को दिखाया आईना
फरीदाबाद। 
देश में बढ़ती महंगाई, भ्रष्टाचार और आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी कर लगाने के विरोध में अखिल भारतीय कांग्रेस तथा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर जिले के कांग्रेसी नेताओं ने आज सेक्टर-12 जिला मुख्यालय पर के समक्ष अनोखा विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेसियों ने स्वयं चूल्हा जलाकर रोटी-सब्जी बनाई और अपना रोष जाहिर किया। बरसात भी कांग्रेसी नेताओं के इरादों को कमजोर नहीं कर पाई और भारी बरसात में भी कांग्रेसी नेता विरोध प्रदर्शन पर डटे रहे और ‘सोनिया गांधी जिंदाबाद, राहुल गांधी जिंदाबाद, भूपेंद्र सिंह हुड्डा जिंदाबाद जैसे गगनचुंबी नारे लगाकर पूरे माहौल कांग्रेसमय कर दिया। इस मौके पर पूर्व विधायक ललित नागर, पूर्व विधायक रघुवीर तेवतिया, लखन सिंगला, विजय प्रताप सिंह, गिरीश भारद्वाज, विनोद कौशिक, मुकेश शर्मा, राजेंद्र भामला, संजय कौशिक चेयरमैन, खुशबू खान, कमल चंदीला, गंगा राम जाट मनोज नागर, अनिल शर्मा पार्षद, विनय राठौर, विजय भीम बस्ती, लक्ष्मण सिंह तंवर, बाबूलाल रवि, रामअवतार भाटी, सुंदर अगवानपुरिया सहित अनेकों कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद थे। इस दौरान कांग्रेसी नेताओं ने संयुक्त रूप से कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने तानाशाह की सभी हदें तोड़ दी है, ईडी सहित अन्य जांच एजेंसियों के कठपुतली बनाकर सरकार विपक्ष की आवाज को दबाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि आज पेट्रोल-डीजल, सीएनजी, रसोई गैस सिलेंडर सहित आटा, दाल, तेल के साथ-साथ घरेलू उपयोग की वस्तुओं के दाम बेतहाशा बढ़ रहे है, दूध और पनीर तक को सरकार ने जीएसटी के दायरे में ला दिया है, जिसके चलते लोगों के समक्ष अपना परिवार का भरण पोषण करना मुश्किल हो गया है और अब आम लोग भी मन ही मन इस सरकार को सत्ता सौंपकर अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहे है। कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि मोदी सरकार गरीबी नहीं बल्कि गरीबों को इस देश से हटाना चाहती है इसलिए बेतहाशा महंगाई बढ़ा रही है, जबकि भ्रष्टाचार की बात की जाए तो पिछले आठ सालों में जितने घोटाले हुए है, वह किसी से छिपे नहीं है, लेकिन भाजपा सरकार इन मुद्दों से जनता का ध्यान हटाने के लिए विपक्षी नेताओं पर जांच एजेंसियों का शिकंजा कसवा रही है। उन्होंने कहा कि देशभक्ति की बात करने वाले भाजपाईयों ने तिरंगे को भी नहीं छोड़ा और इसकी आड़ में भी धन उगाही का कार्य कर रहे है। 25 रूपए तिरंगा स्कूलों, कंपनियों, राशन डिपो पर लोगों को जबरन दिया जा रहा है, इससे भाजपा सरकार की औछी मानसिकता का पता चलता है। कांग्रेसियों नेताओं ने एक स्वर में कहा कि अब इस सरकार के दिन लद चुके है इसलिए वह इस प्रकार  इस प्रकार के हथकंडे अपनाकर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का मनोबल कमजोर करना चाहते है लेकिन कांग्रेस पार्टी चट्टान की तरह मजबूत है और भाजपा सरकार के इन हथकंडों से डरने वाली नहीं है बल्कि और मजबूती से इस सरकार की जनविरोधी नीतियों को उजागर करेगी।

Leave a Comment