मुख्यमंत्री ने फरीदाबाद प्रशासन के कार्यों की की सराहना

फरीदाबाद, 11 नंवम्बर। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज वीरवार को प्रातः 10:30 बजे वीडियो कांफ्रेंस के जरिए प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के साथ सीधा संवाद कर सरकार की विभिन्न योजनाओं और परियोजनाओं की समीक्षा की।  मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने डीएपी खाद की कमी, कोविड-19 के बचाव के लिए वैक्सीनेशन अभियान, खेतों में पानी भराई, परिवार पहचान पत्र, परिवार की आय को प्रमाणित करने सहित अन्य जरूरी पहलुओं पर विस्तार पूर्वक चर्चा करके उपायुक्तों को दिशा निर्देश दिए।

   जिला उपायुक्त फरीदाबाद जितेंद्र यादव के कार्यों की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि वे सरकार की विकासात्मक योजनाओं और परियोजनाओं को और भी बेहतर तरीके से करते रहे। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने जिला में डीएपी खाद की कमी के बारे में मुख्यमंत्री के सामने अपनी बात रखी तो मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने तुरंत मुख्यालय के  अधिकारियों को निर्देश दिए और कहा कि वे फरीदाबाद में किसानों की उपलब्धता के अनुसार डीएपी व यूरिया खाद उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने उपायुक्त जितेंद्र यादव को कहा कि वे जिला फरीदाबाद में परिवार पहचान पत्र में लोगों की आय के प्रमाणिकता के तीसरे फेज को भी बेहतरीन तरीके से ऑनलाइन करना सुनिश्चित करें। आपको बता दें कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि वे आगामी 31 दिसंबर तक कोविड-19 के बचाव के लिए सरकार द्वारा लगाए जा रहे प्रथम व द्वितीय वैक्सीनेशन का काम पूरा करना सुनिश्चित करें। इसके अलावा जिन जिलों में डीएपी खाद की कमी, जलभराव है,परिवार आय प्रमाणिकता, शुगर मिलों चालू करने, दिव्यांग जनों को ऑनलाइन पोर्टल पर डालने और मुख्यमंत्री अंतोदय परिवार उत्थान योजना के तहत गरीब जरूरत मंद परिवारों को नौकरी दिलवाने या स्वयं रोजगार के लिए कार्य शुरू करवाना सुनिश्चित करने सहित तमाम पहलुओं पर अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए।

   वीडियो कांफ्रेंस में अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया, एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोकचंद, सीटीएम पुलकित मल्होत्रा, डीडीपीओ राकेश मोर,जिला चिकित्सा अधिकारी डाँ विनय गुप्ता, डीआईओ मुनेश बाबू अग्रवाल  सहित बैठक से जुड़े अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

Leave a Comment