आजादी का अमृत महोत्सव राष्ट्र के जागरण का उत्सव: मूलचंद शर्मा

– आजादी के अमृत महोत्सव के तहत कला एवं सांस्कृतिक विभाग एवं सुमधुर ध्वनि द्वारा सांस्कृतिक संध्या में किया संबोधित

– संत सूरदास को समर्पित किया गया था कार्यक्रमपद्मश्री सुमित्रा गुहा सहित हरियाणवी कलाकारों ने भी बांधा समां

फरीदाबाद, 29 नवंबर। आजादी के अमृत महोत्सव को वर्ष भर मनाये जाने की कड़ी में गत सांय कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग, हरियाणा तथा समुधर हंस ध्वनि के संयुक्त तत्वाधान में सेक्टर- 12 स्थित कन्वेंशन हॉल में एक रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर परिवहन मंत्री, हरियाणा मूलचंद शर्मा ने बतौर मुख्य अतिथि कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव स्वाधीनता सेनानियों से प्रेरणा और ऊर्जा लेकर देश हित में नए संकल्पों का उत्सव है। इसके साथ ही  आजादी का अमृत महोत्सव राष्ट्र के जागरण का उत्सव है और साथ ही स्वराज के सपनों को पूरा करने कर वैश्विक शांति को बनाए रखने में सहभागिता निभाने का उत्सव है। उन्होंने कहा कि गायन, शास्त्रीय, नृत्य जैसी सभी प्रकार की विधाएं व्यक्ति की साधना से जुड़ी हुई है। जिस व्यक्ति ने साधना का जितना अभ्यास कर उसे अपने जीवन में आत्मसात किया है। उसने अपनी बरसों की कठिन रियाज़ एवं साधना के माध्यम से परमात्मा तक को प्राप्त किया है। इस प्रकार का भाव यदि व्यक्ति के जीवन में आ जाए तो वह नृत्य एवं सँगीत से जुड़ कर जीवन के इस प्रकार के उद्देश्यों को पूरा कर सकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा कला और संस्कृति के माध्यम से इस प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमो का आयोजन करवाने का उद्देश्य गीत, संगीत और संस्कृति से जुड़े लोगों को बेहतर मंच प्रदान करना है ताकि इन मंचों पर अपने उत्कृष्ट विधाओं एवं प्रतिभाओं का मंचन कर संस्कृति एवं कला से जुड़े लोग अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें। कार्यक्रम में इस दौरान शास्त्रीय गायन पदम श्री अवार्ड से सम्मानित विदुषी सुमित्रा गुहा ने अपने सुर लहरियों के माध्यम लोगों को मंत्र मुग्ध किया तो साथ ही शास्त्रीय नृत्य में पदम श्री अवार्ड से सम्मानित डॉ शोवना नारायण ने अपने नृत्य के माध्यम से लोगों को आनंदित किया साथ डॉक्टर हरविंदर राणा व टीम द्वारा हरियाणवी फोक रिसाइटल कार्यक्रम की प्रस्तुति पर दर्शकों की खूब ताली बटौरी, इस दौरान शास्त्रीय गायन व लोक संगीत के माध्यम से संत सूरदास को याद किया। इस दौरान कार्यकम के आयोजको द्वारा मुख्य अतिथि मूलचंद शर्मा, मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार अनिल कुमार राव , उपायुक्त जितेंद्र यादव का कार्यक्रम में पहुँचने पर पुष्प गुच्छ व शाल उढ़ाकर कर स्वागत किया । इस अवसर  कला व सांस्कृतिक  अधिकारी डॉ दीपिका वालिया ने बताया कि कला एवं संस्कृति कार्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ डी सुरेश के कुशल मार्गदर्शन एवं निदेशक प्रतिमा चौधरी के नेतृत्व में आज आजादी के महोत्सव कार्यक्रम  के अंतर्गत सांस्कृतिक संध्या का आयोजन कला एवं संस्कृति से जुड़े लोगों को प्रेरित एवं प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से किया गया। इस अवसर पर संदीप, नरेन्द्र सहित अनेको गणमान्य व्यक्ति मौके पर उपस्थित रहे।

Leave a Comment