2022: 35 वें अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड मेला 19 मार्च से 4 अप्रैल तक लगेगा मेला

फरीदाबाद [अतुल्य लोकतंत्र ] दीपक शर्मा शक्ति: Haryana Tourism Development Corporation हरियाणा पर्यटन विकास निगम के प्रधान सचिव एवं सूरजकुंड मेला अथॉरिटी के वाईस चेयरमैन एमडी सिन्हा ने कहा कि सूरजकुंड में 20 मार्च से चार अप्रैल तक अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेला लगाया जाएगा। कोविड-19 महामारी के बाद की परिस्थितियों से उभरते हुए अंतरराष्ट्रीय स्तर की इस गतिविधि को पूरी धूमधाम से साथ आयोजित किया जाएगा। मेला को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। श्री सिन्हा रविवार को होटल राजहंस में सभी विभागों के साथ मेले की समीक्षा के बाद पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे।

सूरजकुंड मेला में क्या क्या है – 35th International Surajkund Fair

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इस बार मेले में पिछली बार की तरह 1100 स्टाल ही रखे गए हैं।

Surajkund Mela 2022
Surajkund Mela 2022
  • मेले का स्टेट पार्टनर जम्मू एवं कश्मीर रहेगा और कंट्री पार्टनर उजबेकिस्तान को रखा गया है।
  • उन्होंने कहा कि मेले में इस बार 35 देश हिस्सा लेंगे और 30 देशों की तरफ से अपने आने की अनुमति भी भेज दी गई हैं।
  • राज्यों की भी कला एवं संस्कृति की झलक देखने को मिलेगी।
  • मेले में देशभर के हस्तशिल्प अपनी कला को प्रदर्शित करने के लिए पहुंच रहे हैं।
  • उन्होंने कहा कि मेले को लेकर बेहतरीन व्यवस्था की गई है। इस बार पेटीएम के सहयोग से टिकटों की बुकिंग की जाएगी। पर्यटकों को कोई असुविधा न हो इसके लिए पार्किंग पास के साथ ही मेले की टिकट की बुकिंग की जाएगी। उन्होंने कहा कि मेले की टिकट आम दिनों में 120 रुपये और शनिवार व रविवार को 180 रुपये रखी गई है।

35th International Surajkund Mela Free Entry

  • राजकीय स्कूल के बच्चों के लिए मेले में नि:शुल्क इंट्री रहेगी।
  • दिव्यांगों को 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

सूरजकुंड मेला एंट्री गेट

उन्होंने बताया कि मेले में पांच एंट्री गेट रहेंगे।

  • आम जनता के लिए तीन गेट रहेंगे। 3 gates for the general public.
  • एक गेट वीआईपी (one gate for vip)
  • एक गेट मीडिया इंट्री के लिए रहेगा (One gate for Media entry)

उन्होंने कहा कि प्रत्येक गेट पर पर्यटकों का टेंपरेचर करने व सुरक्षा जांच की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक टिकट पर बार कोडिंग की व्यवस्था होगी। उन्होंने कहा कि मेले में सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर सिंह मान को जिला प्रशासन की तरफ से नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

35वें अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड मेला सुरक्षा

वहीं पुलिस की तरफ से डीसीपी मुख्यालय नितिश अग्रवाल को पुलिस की तरफ से नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

सुरक्षा को लेकर पूरा मेला परिसर

  • पार्किंग स्थल
  • आस-पास की जगहें सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में रहेंगी।
  • मेला क्षेत्र की ड्रोन से मैपिंग।
  • मेला परिसर में एक अस्थाई पुलिस लाईन भी बनाई जाएगी।
  • यहां प्रतिदिन 2500 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की ड्यूटी रहेगी।

Entry Timing for 35th International Surajkund Fair 2022

  • मेला सुबह 12:00 बजे शुरू होगा और रात 11:30 बजे तक रहेगा।

Note:  रात को 9:00 बजे के बाद एंट्री बंद कर दी जाएगी।

सांस्कृतिक कार्यक्रम सूरजकुंड मेला

उन्होंने बताया कि कार्यक्रम स्थल पर

  • छोटी चौपाल व बड़ी चौपाल पर लगातार सांस्कृतिक कार्यक्रम जारी रहेंगे।
  • यहां देश व विदेश के कलाकारों के अलावा स्कूली बच्चे भी अपनी प्रस्तुती देंगी।
  • बच्चों के लिए प्रतिदिन विभिन्न प्रतियोगिताएं भी करवाई जाएंगी।

सूरजकुंड में 20 मार्च से चार अप्रैल तक अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेला लगाया जाएगा

सूरजकुंड मेला की सुविधा – Features of Surajkund Mela 2022:

  • मेला स्थल पर स्वास्थ्य विभाग की दो अतिरिक्त डिस्पेंसरी भी बनाई जाएंगी और
  • आठ एंबुलेंस लगातार यहां ड्यूटी पर रहेंगी।
  • मेला स्थल पर कोविड-19 टीकाकरण कैंप भी लगाया जाएगा।
  • इसके साथ ही मोबाईल एटीएम व विदेशी मुद्रा बदलने की सुविधा भी होगी।
  • मेला स्थल पर अस्थाई डाकघर भी स्थापित किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि मेला क्षेत्र की ड्रोन से मैपिंग करवाई जा रही है और इस स्थल को 18 अलग-अलग सेक्टरों में विभाजित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मेला में

प्रतिदिन कितने पर्यटक आएंगे,

पार्किंग में कितने वाहन हैं,

Surajkund Mela Ticket Booking Facility 2022 – सूरजकुंड मेला टिकट बुकिंग 2022

सूरजकुंड मेला टिकट बुकिंग करने की सुविधा

  • Online टिकट बुकिंग व SurajKund International Crafts Mela App ऐप भी विकसित किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि मीटिंग में सभी अधिकारियों को यह निर्देश दिए गए हैं कि यह मेला अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश की पहचान है और विश्व का सबसे बड़ा हैंडीक्राफ्ट का मेला है। ऐसे में सभी विभागों को तालमेल के साथ कार्य करना है।

इस अवसर पर मंडल आयुक्त संजय जून, पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा, हरियाणा पर्यटन विकास निगम के एमडी नीरज कुमार, उपायुक्त जितेंद्र यादव, अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर सिंह मान, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत सिंह अहलावत, एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया, एडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद, मेला अधिकारी राजेश जून सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Comment