11 वर्षीय बच्चे को प्रतापगढ़ उत्तर प्रदेश से पुलिस चौकी सेक्टर-19 ने बरामद कर किया परिजनो के हवाले

3

फरीदाबाद, 25 मार्च  11 वर्षीय बच्चे को पुलिस ने प्रतापगढ उत्तरप्रदेश से सकुशल बरामद कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। दरअसल 10 मार्च को राधा निवासी फ्रैन्ड्रस कालोनी ओल्ड फरीदाबाद ने चौकी में एक बच्चे के गुम होने की सूचना प्राप्त हुई जिस सूचना पर थाना ओल्ड में मुकदमा दर्ज कर नाबालिग बच्चे की तलाश शुरु कर दी गई। बच्चे की माँ ने बताया कि उसका लडक़ा जो घर से बिना बताये कही चला गया है।जिसकी तलाश के लिए चौकी प्रभारी ने पुलिस टीम मुख्य सिपाही महेश,सिपाही नवीन को नियुक्त किया गया। पुलिस टीम ने कार्रवाई करते हुए बताया कि बच्चे कि तलाश के बारे में सोशल मीडिया में फोटो शेयर किया गया। बच्चे के बारे में बीट के सभी ग्रुपो में फोटो को शेयर किया गया जो बच्चे के बरे में सूचना नही मिली। पुलिस टीम ने बच्चे के परिवार और सम्बन्धियो को फोन के द्वार और जाकर छान बीन की जो बच्चे के बारे कोई सूचना नही मिली। बच्चे के बारे में इलेक्ट्रॉनिक्स माध्यमों से पता लगाया कि बच्चा आपनी नानी के यहां प्रतापगढ़ उत्तर प्रदेश में है। जिसपर कार्रवाई करते हुए बच्चे को पुलिस टीम ने बरामद कर फरीदाबाद लाया गया। बच्चे के परिजनों को सूचना देकर पुलिस चौकी में बुलाया। बच्चे को बरादम कर पूछताछ की तो बच्चे ने बताया कि वह घर से बिना बताये दिल्ली निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर चला गया। जहां पर वह एक व्यक्ति से मिला जो गुजरात का रहने वाला था। वह बच्चे को अपने साथ ले गया। बच्चे ने बताया की वह गुजरात में उस व्यक्ति के साथ 8-9 दिन रहा। फिर उस व्यक्ति ने बच्चे को 2000/-रुपये देकर दिल्ली वाली ट्रेन में बठा दिया। जो बच्चा पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहूँचा। बच्चा अपने घर ने जाकर अपनी नानी प्रतापगढ़ की ट्रेन में बठकर वहा चला गया। जो बच्चे बारे पुलिस को सूचना मिली जिस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए बच्चे को प्रतापगढ़ से बरामद कर फरीदाबाद लाया गया। पुलिस टीम ने परिवार वालो को हिदायत दी की अपने बच्चे को अकेला न छोडे। बच्चा अगर किसी गलत व्यक्ति के हाथो में चला गया तो बच्चे की जन्दगी और जान दोनो को ही खतरा है। पुलिस ने बच्चे को भी बडे प्यार से समझाया कि घर से बिना माता पिता की आज्ञा के कही नही जाना चाहिए। बच्चे के परिवारजनो ने पुलिस टीम का तह दिल से धन्यबाद किया। जो पुलिस टीम ने बाद कानूनी कार्रवाई बच्चे को परिवारजनो को सौंप दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here