हरियाणा बाल संरक्षण आयोग की चेयरपर्सन ने की हिफाजत जागरूकता अभियान की शुरूआत

8

फरीदाबाद। हरियाणा बाल संरक्षण आयोग की चेयरपर्सन ज्योति बैंदा ने कहा है कि बाल यौन शोषण के खिलाफ सबको एकजुटता के साथ आगे आना होगा क्योंकि यह एक अत्यंत चिंतन का विषय है कि बाल यौन शोषण महामारी के अनुपात पर पहुंच गया है। जिस पर सभी को मिलकर रोक लगानी होगी जो हम सबका नैतिक दायित्व है। वे बुधवार को एनआईटी स्थित बालभवन में आयोजित हिफाजत नामक जागरूकता अभियान कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करने के उपरांत उपस्थितजनों को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि बाल संरक्ष्ण आयोग के अंतर्गत बाल यौन शोषण को रोकने के लिए बड़े स्तर पर लोगों को प्रेरित किए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं। जिससे बाल यौन शोषण के खिलाफ आने वाली शिकायतों परतीव्रता व कठोरता से कार्यवाही की जा रही हैं। उन्होंने इस बारे जानकारी देते हुए कहा कि बाल यौन शोषण मे दोषी पाए जाने वाले व्यक्ति के खिलाफ पोस्को एक्ट के अंतर्गत जुर्माने सहित 10 साल तक की सजा का प्रावधान है। उन्होंने कहा की हम सब को समाज में बाल संरक्षण के लिये युद्ध स्तर पर आमजन को जागरूक करने की आवश्यकता है। जिसमे यौन शोषण से बचने के लिए बच्चों को भी जागरूक किया जाना भी इस कड़ी में महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने अभिभावकों व आमजन से अनुरोध किया है कि वे इस संबंध में अपने घर या आस-पास हो रही घटनाओं पर नजर रखें और समय रहते इसकी सूचना संबंधित विभाग व पुलिस प्रशासन को दें। इस अवसर पर उन्होंने मोबाइल वैन को हरी झंडी देते हुए रवाना भी किया जिसमें हिफाजत, अनाथ बच्चों को अपनाने, मेरा बचपन मेरा अधिकार सहित पुलिस दीदी जैसे योजना एवं प्रोजेक्टो के बारे में स्थानीय व अन्य क्षेत्र के लोगों को जागरूक किया गया। उल्लेखनीय है कि बाल यौन संरक्षण पर आयोजित उक्त जागरूकता कार्यक्रम हरियाणा स्टेट कमिशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स के कुशल मार्गदर्शन में पुलिस व डिस्ट्रिक्ट चाइल्ड प्रोटेक्शन यूनिट फरीदाबाद के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। इस अवसर पर सीडब्लूसी श्रीपाल कराहना, सीएमजीजीए रुपाला सक्सेना सहित अनेको गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here