यमुना जी की अविरलता एवं निर्मलता का प्रयास मानवता की सच्ची सेवा – डॉ. आर एन सिंह

3
Faridabad : यमुना रक्षक दल के राष्ट्रीय संगठन मंत्री डॉ. आर एन सिंह ने तिगाव के विधायक राजेश नागर से मिलकर हथिनी कुण्ड से लाया गया  पवित्र यमुना जल उन्हें भेंट किया। इस अवसर पर यमुना रक्षक दल के राष्ट्रीय संगठन मंत्री डॉ. आर एन सिंह ने विधायक के पिता रूप सिंह नागर से भी मिले तथा हथिनी कुण्ड से लेकर फरीदाबाद, पलवल, वृन्दावन धाम तथा मथुरा तक यमुना जी के दीन हीन स्थति पर विस्तृत चर्चा की गई।  चर्चा के क्रम में उन्होंने कहा कि यमुना जी के अविरलता एवं निर्मलता हेतु यमुना रक्षक दल सदैव क्रियाशील रहा है। लाखों यमुना रक्षकों के साथ शांतिपूर्ण आन्दोलन के माध्यम से विभिन्न सरकारों का ध्यान इस अत्यन्त गम्भीर समस्या की ओर आकृष्ट करने का कई बार प्रयास किए गए हैं किन्तु अधूरी सफलता मिली है। उन्होने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में यमुना जी के साथ छेड़छाड़ तथा औद्योगिक, व्यवसायिक, कृषि तथा घरेलू प्रदूषकों का इनमें बेखौफ तथा अनवरत् बहाव न सिर्फ इनके अस्तित्व के लिए खतरा पैदा कर रहा है बल्कि जलीय जीव-जंतुओं, पेड़-पौधों यहाँ तक कि हम मनुष्यों को भी अपने अस्तित्व के लिए खतरा नजर आने लगा है। अब समाज के सभी वर्गों को एकजुट होकर यमुना जी के अविरलता एवं निर्मलता के लिए आवाज उठाना होगा। जनप्रतिनिधियों की भूमिका इस संदर्भ में अत्यंत महत्वपूर्ण है जिसका जनहित में निर्वहन करना चाहिए। यमुना जी की अविरलता तथा निर्मलता दोनों हीं की आपसी परस्पर निर्भरता को कदापि नाकारा नहीं जा सकता। यमुना जी को अविरल तथा निर्मल बनाने हेतु यमुना जी के प्राकृतिक मार्ग में कम से कम 25 % यमुना जल छोड़ना हीं होगा – हथिनी कुण्ड में इसकी व्यवस्था की जा सकती है। यमुनानगर से शुरू होकर दिल्ली, फरीदाबाद आदि स्थानों पर विभिन्न प्रकार के प्रदूषकों को यमुना जल में समाहित करने से रोका जाना अत्यन्त आवश्यक है। डॉ. आर एन सिंह ने राजेश नागर से आग्रह किया कि यमुना जी को निर्मल तथा अविरल बनाने हेतु त्वरित, सार्थक एवं ठोस कदम उठाने के लिए हरियाणा सरकार के समक्ष यमुना रक्षक दाल के विचारों रखें।  विधायक के पिता रूप सिंह नागर ने पवित्र यमुना जल को देख कर काफी खुश हुए तथा पवित्र यमुना जल प्राकृतिक मार्ग से प्रत्येक यमुना प्रेमी को मिले इसके लिए शुभकामनाएँ दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here