महिला पुलिस अधिकारियों के कार्यों की पुलिस कमिश्नर ने की समीक्षा

19

फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने आज अपने कार्यालय सेक्टर 21c में एसपी क्राईम अगेंस्ट विमेन जयपाल सिंह एवं फरीदाबाद के तीनों महिला थाना प्रभारी सहित थानों में तैनात महिला पुलिस कर्मियों के साथ बैठक कर 2 महीने से अधिक समय के केसो की समीक्षा। सिंह ने कहा कि पीड़ितों की शिकायत पर जल्द सुनवाई कर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। रेप और पोक्सो के मामलों में 2 महीने से ऊपर पेंडिंग केसों की समीक्षा करते हुए पुलिस आयुक्त ने उनका जल्द चालान तैयार कर अदालत मे देने के आदेश दिए। मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी करें।

आरोपियों की गिरफ्तारी महिला थाना के अलावा लोकल थाना जहां पर घटना घटी है का थाना प्रबंधक महिला पुलिस की आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए हर संभव मदद करेगा लोकल थाना प्रबंधक की यह जिम्मेवारी है कि अपराधियों की गिरफ्तारी में महिला पुलिस की शत-प्रतिशत मदद करें अपनी टीम से छापामारी कर आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी कर सलाखों के पीछे भेजें इसके उपरांत जल्द चालान नाले में दें। उन्होंने बताया कि घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाएं न्याय की उम्मीद के साथ महिला थाने में आती है। पुलिस का कर्तव्य बनता है की उनकी समस्या की सुनाई करके पीड़ित की पैरवी करें और सही तरीके से जांच कर अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजने का कार्य करें।

महिलाओं की समस्याओं को सुलझाने में अपने विवेक और प्रतिभा का प्रयोग करके जिले के अंदर शांति व्यवस्था स्थापित करें। पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने कहा कि पीड़ित के साथ सकारात्मक रूप से कार्य करते हुए उसकी समस्या समस्या का समाधान में अपना सहयोग देते हुए अपने अच्छे कार्यों से सरकार द्वारा खोले गए महिला थाना के प्रयोग को सफल बनाएं।

महिला थाना खोलने से आम महिलाओं को एक सहूलियत मिली है कि वह अपनी बात दिन – रात बेझिझक रख सके। इसके साथ ही महिला पुलिस कर्मियों को महिला विरुद्ध अपराध में अनुसंधान करने का मौका मिला है और उनहे पदोन्नति के अधिक अवसर बढ़े हैं । इस दौरान महिला थानों के नोडल ऑफिसर एसीपी श्री जयपाल ने बताया कि उन्होंने बीते 2 महीनों में 750 शिकायतों का निपटारा किया है। इस दौरान पुलिस कमिश्नर ने रेप के मामले में आरोपी को कोलकाता से गिरफ्तार करने वाली महिला थाना एनआईटी में तैनात एएसआई नीलम को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया।

इसके अलावा महिला थाना बल्लबगढ़ पुलिस टीम को एक ऐसे आरोपी को गिरफ्तार करने पर सम्मानित किया गया जो कि महिलाओं को व्हाट्सएप पर अश्लील मैसेज भेजता था जिसके खिलाफ गुरुग्राम में धोखाधड़ी के खिलाफ भी कई मामले दर्ज थे। पुलिस आयुक्त ने महिला पुलिस कर्मियों के कार्य की सराहना करते हुए कहा कि महिला पुलिसकर्मी जिले की महिलाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी बखूबी निभा रही हैं। महिला पुलिसकर्मियों को प्रोत्साहित करते हुए उन्होंने कहा कि महिला पुलिस कर्मियों ने अनेकों घर टूटने से बचाएं हैं और पीड़ितों को न्याय दिलवाने में भी अहम भूमिका निभाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here