पुलिस कमिश्नर ने छात्राओं के सुझाव से खुश होकर उन्हें इनाम में हरियाणा पुलिस की टी शर्ट की भेंट

14

फरीदाबाद। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आज पुलिस कमिश्नर कार्यालय में सेंट जोसेफ कॉन्वेंट स्कूल की 10 वर्षीय छात्रा प्रेरिता व 15 वर्षीय छात्रा चेष्टा ने पुलिस कमिश्नर श्री ओ.पी.सिंह से मुलाकात कर जिले में क्राइम और ट्रैफिक कण्ट्रोल करके के सुझाव दिए। प्रेरिता ने अपने सुझाव में ट्रैफिक कण्ट्रोल के बारे में बताया कि जो रेड लाईट नियमों का उल्लंघन करते हैं उनको नियंत्रित करने के तरीके हैं पहला लालच और दूसरा डर। छात्रा ने अपनी राय प्रस्तुत करते हुए बताया कि जो लोग यातायात नियमों का पालन करते हैं उनकी फोटो लेकर चौक, चौराहों पर उनके बैनर लगाएं और सोशल मीडिया पर उनकी खबर को अधिक से अधिक प्रसारित करनी चाहिए ताकि दुसरे लोग भी उनसे प्रोत्साहित होकर यातायात नियमों का पालन करें। दूसरा उपाय बताते हुए प्रेरिता ने कहा कि जो लोग ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करते उनके ऊपर थोडा सा जुर्माना लगाकर उन्हें सेमिनार में आमंत्रित किया जाए और 1 दिन पुलिस प्रशासन के साथ ट्रैफिक ड्यूटी करवाई जाए ताकि उन्हें भी ट्रैफिक ड्यूटी के दौरान अपनी सामाजिक जिम्मेवारियों का अहसाह हो। क्राइम कण्ट्रोल के बारे में छात्रा चेष्टा ने सुझाव दिया की अपराध को कम करने के लिए सबसे जरूरी है तुरंत अपराध की सूचना पुलिस को देना ताकि समय रहते पुलिस अपराधियों को पकडक़र अपराधों पर अंकुश लगा सके। इसके लिए चेष्टा ने बताया कि ज्यादातर लोग किसी भी अपराध की सूचना पुलिस को इसलिए नहीं देते क्यूंकि उनका मानना है कि यदि उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी तो पुलिस उन्ही से सवाल जवाब करेगी। इसी को ध्यान में रखते हुए ऐसी कार्य प्रणाली को विकसित करने की आवश्यकता है जिसमे पुलिस को अपराध के बारे में सूचना देने वाले व्यक्ति को इस डर से मुक्त किया जाए और उन्हें किसी भी प्रकार की पुलिस इन्वेस्टीगेशन में शामिल न किया जाए ताकि लोग बिना किसी डर के अपराधों के बारे में पुलिस को सूचित कर सकें। पुलिस आयुक्त ने दोनों छात्राओं के सुझाव से खुश होकर उन्हें हरियाणा पुलिस की टी-शर्ट भेंट करते हुए उन्हें पुलिस आयुक्त की कुर्सी पर बैठाया और उनके सुझाव का विश्लेषण करके इसपर कार्य करने का आश्वासन दिया। पुलिस आयुक्त ने कहा कि हमें इसी प्रकार के आइडियाज की जरुरत है जो प्रशासन की कार्यप्रणाली में सकारात्मक बदलाव लाकर एक बेहतर समाज का निर्माण कर सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here