आउटसोर्सिंग कर्मचारियों पर हो रहे शोषण के खिलाफ के खिलाफ भारतीय मजदूर संघ का ज्ञापन

2

फरीदाबाद – 22 अप्रैल। भारतीय मजदूर संघ ने आउटसोर्सिंग कर्मचारियों पर हो रहे शोषण के खिलाफ ज्ञापन सौंपा। स्वास्थ्य कर्मचारी संघ हरियाणा जिला फरीदाबाद सम्बन्धित भारतीय मजदूर संघ जिला स्तर पर प्रदर्शनों से आउटसोर्सिंग कर्मचारियों पर हो रहे शोषण का प्रदेश सरकार को अवगत कराना। प्रदेश सरकार ने अभी तक आउटसोर्सिंग के कर्मचारियों की समस्याओं पर गंभीरता से विचार नहीं किया गया, मौजूदा समय में कोविड -19 जैसी महामारी के बावजूद भी आउटसोर्सिंग कर्मचारी वर्ग प्रमुखता से आगे खड़ा हैं परंतु फिर भी उनकी मुख्य मांगों को अनदेखा किया जा रहा हैं।
सेक्टर -12 लघु सचिवालय में जिला उपायुक्त की अनुपस्थिति में उनके सुपरिटेंडेंट कुंदन लाल के माध्यम से मुख्यमंत्री हरियाणा सरकार को ज्ञापन सौंपा गया। स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष सुरेंद्र देशपाल ने बताया कि ज्ञापन के माध्यम से निम्नलिखित मांगों में मुख्य रूप से आदेशों के बावजूद भी ठेकेदार बदलने पर पुराने कर्मचारियों को हटाने या ट्रांसफर का भय दिखाकर विभिन्न प्रकार के शोषण के तरीके अपनाए जा रहे हैं। जैसे कई जिलों में दूर-दूर बदलीं करना, विभिन्न प्रकार फंड के नाम पर पैसा माँगना आदि। जिसमें बड़े भ्रष्टाचार की संभावना हैं जिसके खिलाफ कई जिलों में जैसे भिवानी, झज्जर, गुड़गांव, व अन्य में धरना प्रदर्शन जारी हैं। अत: कर्मचारियों की इस समस्या का तुरंत समाधान करते हुए किसी भी कर्मचारी को न हटाने व मूल स्थान पर ही ड्यूटी करने के आदेश जारी किए जाए व सभी आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को इस भ्रष्टाचारी बिचौलिया व्यवस्था से निकाल प्रदेश सरकार रोस्टर प्रणाली पर किया जाए।

शैलेश चौधरी ने बताया कि ठेकेदार द्वारा समय पर कर्मचारियों के पीएफ, ईएसआई एवं लेबर वेलफेयर फंड का पूर्ण रूप से जमा नहीं होता। ज्यादातर जिलों में समय पर कर्मचारियों को वेतन नहीं मिलता। कई जिलों में कर्मचारियों को वेतन प्राप्त हुए 10 से 11 महीने का समय हो चुका हैं जिसके कारण घर का खर्च चलाना मुश्किल हो गया हैं। नये कांट्रैक्ट में सिक्योरिटी गार्ड की पोस्ट को समाप्त कर दिया गया हैं। जिससे लगभग साढ़े तीन हजार परिवारों पर बेरोजगारी का संकट पैदा हो जाएगा अतः किसी भी सिक्योरिटी गार्ड को हटाया न जाए व उनको होमगार्ड की अतिरिक्त ट्रेनिंग भी दी जाए। ऐसी परिस्थिति में कर्मचारियों के सामने आंदोलन के अलावा कोई चारा नहीं नहीं बचा हैं। स्वास्थ्य कर्मचारी संघ हरियाणा जिला फरीदाबाद सम्बन्धित भारतीय मजदूर संघ इस प्रकार की अनदेखी की निंदा करता हैं। व शासन से मांग करता है कि उक्त कर्मचारी वर्ग की समस्या का निदान तुरंत प्रभाव से करें जिससे स्वास्थ्य विभाग कर्मचारी और अधिक ऊर्जा से भय मुक्त हो कर कार्य कर पायेगा। स्वास्थ्य कर्मचारी संघ हरियाणा जिला फरीदाबाद जिलाध्यक्ष सुरेंद्र देशवाल, शैलेश चौधरी, दीपक कुमार, सुरेन्द्र हुड्डा व योगेश चौधरी एवं समस्त स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के अन्य सदस्य विशेष रूप से शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here